numerology no 1

कहाँ अटक जाती है मूलांक 1 वालों की तरक्की

आज इस आर्टिकल में हम आपको मूलांक एक में पैदा होने वाले व्यक्ति के बारे में विस्तार से बताएंगे।

कौन व्यक्ति आते है मूलांक एक में

जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 1, 10, 19 या 28 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 1  माना जायेगा। अब विस्तार से मूलांक 1 पर चर्चा करते है। मूलांक एक का स्वामी ग्रह सूर्य है, और सूर्य को इस सृष्टि के लिए मुख्य जीवनदायिनी शक्ति माना गया है।

कैसा होता है मूलांक एक वालो का आचरण

ऐसे लोग ईमानदार और कर्मठ होते है। क्रिएटिव होते है जो ठान ले उसे पाने का पूरा प्रयास करते है।स्वामी ग्रह सूर्य होने के कारण लीडर क्वालिटी बहुत अच्छी होती है।ये बहुत महत्वाकांक्षी, देखने मे अट्रैक्टिव होते है। सूर्य सा तेज लिए होते है।
जिस कार्य को हाथ मे लेते है बेहतरीन तरीके से पूरा करते है। बहुत अच्छे डिसीजन मेकर होते है।जबान के पक्के, अपनी बात पर अड़े रहने वाले, सिद्धान्तवादी होते है। किसी के सामने झुकना पसंद नही करते।अचानक कोई मुश्किल आने पर घबराते नही, और डटकर उसका सामना करते है।

नकारात्मक आचरण

स्वभिमानी होना कभी कभी घमंडी बना देता है। हर बार अपनी बात पर अड़े रहना भी सही नही। मूलांक एक वालो को स्वभिमान और घमंड में अंतर समझ लेना चाहिए।ये बिना स्वार्थ जल्दी से किसी का कार्य नही करते।

ये भी पढ़े   मूलांक 2: Numerology Number 2 in Hindi - कुंडली

मूलांक एक वालो की शिक्षा

ग्रह स्वामी सूर्य उच्च शिक्षा को दर्शाता है। पढ़ने के मामले में बहुत उत्साहित रहते है। ज्यादातर प्रतियोगी परीक्षाओ में सफलता प्राप्त करते है। इनके साथी दोस्त और टीचर्स इसी कारण इन्हें बहुत पसंद करते है।

मूलांक एक वालो की आर्थिक स्थिति

इनकी आर्थिक स्थिति इनके प्रयास पर निर्भर करती है। लेकिन ज्यादातर ये धनवान ही होते है। शानो शौकत से रहना इनकी आदत होती है।

किन बातों का रखे ध्यान

ज्यादा पैसा इन्हें जुए की तरफ धकेल सकता है। इससे बचे। इन्हें चापलूसी पसंद होती है और पैसे के कारण इनके आसपास चापलूस होते है। इससे नुकसान होने का अंदेशा रहता है। इसलिए चापलूसों और शुभचिंतको में अंतर समझे।

मूलांक एक वालो के पारवारिक सम्बन्ध

लीडर क्वालिटी होने के कारण फर्क नही पड़ता कि ये परिवार में छोटे है या बड़े। ज्यादातर मामलों में इनका निर्णय मान्य होता है। परिवार में लोग ज्यादातर इन्हें पसंद ही करते है, बशर्ते ये अभिमान और स्वभिमान में अंतर बनाये रखे।इनके अधिकांशत मित्र 2, 3, 9 मूलांक वाले ही होते हैं वैसे 1, 6, 7 मूलांक वालों से भी इनकी निभ जाती है।
ये प्रेमी स्वभाव के होते है, साथी के प्रति ईमानदार होते है। इनके साथी का धैर्यवान होना जरूरी है। हर बात में स्वंय का निर्णय सही मानने का कारण इनकी सन्तान से इनका खास सम्बन्ध नही बन पाता।

मूलांक एक वालो का कार्यक्षेत्र

लीडर की क्वालिटी इन्हे प्रबंधक, विचारक, I.A.S या P.C.S जैसे पद के लायक बनाती है। ये बहुत बड़े नेता या राजनयिक अधिकारी बन सकते है।अधिकारी होते हैं। इसके अलावा ये डॉक्टर, सर्जन, डेंटिस्ट भी होते हैं। समाचार पत्रों, पत्रिकाओ, सिनेमा, प्रिंटिंग प्रेस के स्वामी के तौर पर भी ये अच्छे सफल रहते हैं।

ये भी पढ़े   अंकज्योतिष मूलांक 4 के लिए

मूलांक एक वालो का स्वास्थ्य

यदि इनके स्वास्थ्य की बात की जाय तो इनकी जीवनशक्ति प्रबल होने के कारण सामान्यत: इनका स्वास्थ उत्तम रहता हैं, फिर भी ह्रदय रोग, धड़कन की अनियमितता, पेट रोग, आँखों के रोग होने का भय रहता है इसके अलावा इन्हें बुढ़ापे में रक्तचाप, दृष्टि दोष आदि रोग भी हो सकते हैं।

शुभ दिन : रविवार, सोमवार व गुरुवार

शुभ तारीख 1,2, 3 व 9, 10, 19, 28

शुभ रंग : अंकज्योतिष मूलांक 1 के लिएपीला, सुनहरा या नारंगी रंग

शुभ महीने : जनवरी ,मार्च, मई, जुलाई , अक्टूबर

शुभ रत्न : साइट्रीन

कैसा रहेगा इनके लिए 2021

करियर और आर्थिक रूप से ये साल अच्छा है। प्रमोशन होगा, सैलरी बढ़ेगी,नई योजनाओं पर कार्य शुरू करेंगे। नई जॉब ढूंढ रहे या कोई बिज़नेस शुरू करना चाहते है तो इस वर्ष ये हो सकता है। रिश्तों के लिहाज से अच्छा है, अविवाहित शादी के बंधन में बंध सकते है, विवाहित सन्तान सुख प्राप्त कर सकते है। किंतु साल के अंत मे गलत संगत में पड़ने से बचे। स्वास्थ्य से सम्बंधित कुछ मामले सामने आ सकते है, लेकिन जल्द ही आप इनपर कंट्रोल कर लेंगे। चिंता सभी स्वास्थ्य समस्याओं का मुख्य कारण होगी। इसलिए साल की शुरुआत में ही योगा, ध्यान और व्यायाम पर ध्यान दे। निर्णय लें लेकिन दुसरो की बातों को अहमियत जरूर दे। सबसे अंत मे सबसे जरूरी बात, अपने ग्रह स्वामी सूर्य को रोज सुबह जल अर्पित जरूर करें।

Previous Post
numerology-for-date-of-birth-2-11-20-29-of-any-month
अंकशास्त्र

मूलांक 2: Numerology Number 2 in Hindi – कुंडली

Next Post
pyramid
वास्तु

वास्तु के अनुसार पिरामीड के उपयोग और फायदे