maxresdefault

मोहिनी का पौधा – mohini plant benefits in hindi

[vc_column_text]मोहिनी का पौधा क्या होता है? वास्तु के हिसाब से मोहिनी के पौधे को कहा लगाना चाहिए? मोहिनी के पौधे की देखभाल कैसे करे और इसके फायदे क्या होते है? इसकी पूरी जानकारी आज हम आपको इस आर्टिकल में देंगे।
मोहिनी का पौधा वास्तु और विज्ञान के हिसाब से हमारे लिए बहुत ज्यादा लाभगदायक होता है, और अपने घर मे इस पौधे को लगाने से बहुत सारे फायदे भी होते है। मोहिनी का पौधा हमारे घर को स्वस्थ बनाता है। [vc_custom_heading text=”मोहिनी का पौधा क्या है ? – mohini plant in hindi” font_container=”tag:h2|text_align:left|color:%23ff0000″][vc_column_text]मोहिनी का पौधा दक्षिण अफ्रीका का देशी पौधा है, इस पौधे को दुनिया भर में एक घरेलू पौधे के रूप में जाना जाता है। ज्यादातर लोग इस पौधे को क्रासुला का पौधा के नाम से जानते है।
जेड ट्री, फ्रेंडशिप ट्री, लकी ट्री, मनी ट्री और क्रासुला ओवाटा आदि सभी मोहिनी के पौधे के अलग अलग नाम है।
मोहिनी के पौधे की पत्तियां मोटी व चिकनी होती है। वैसे तो ये पौधा बहुत सारे रंगों में आता है, पर वास्तु के हिसाब से गहरा हरा व हरे गुलाबी रंग का पौधा सबसे अच्छा होता है।
बसन्त ऋतु के आरंभ में मोहिनी के पौधे पर तारे के आकार के सफेद व गुलाबी रंग के फूल खिलते है जो देखने मे बहुत सुंदर लगते है। [vc_custom_heading text=”मोहिनी का पौधा वास्तु के हिसाब से कहा लगाना चाहिए? – mohini plant benefits in hindi” font_container=”tag:h2|text_align:left|color:%23ff0000″][vc_column_text]वैसे तो आप मोहिनी के पौधे को अपने घर मे कही भी लगा सकते हो, पर वास्तु के हिसाब से इस पौधे को अपने घर मे अग्नि दिशा की और लगाना चाहिए, और यदि अग्नि दिशा में पौधा रखने व लगाने के लिए कोई जगह नही है तो आप इस को अपने घर के दरवाजे से दक्षिण दिशा में भी लगा सकते हो।
यदि आप के मन मे यह सवाल आ रहा है कि हम इस पौधे को दक्षिण दिशा की ओर क्यों नही लगा सकते है, वैसे तो दक्षिण दिशा पौधों को लगाने के लिए बहुत शुभ मानी जाती है, पर मोहिनी के पौधे के लिए शुभ नही है।
मोहिनी के पौधे को दक्षिण दिशा की और लगाने से इसका सारा फल नष्ट हो जाता है, ओर आपको मोहिनी के पौधे का कोई भी फायदा नही प्राप्त होता है। तो इस पौधे को दक्षिण दिशा में कभी न लगाएं। [vc_custom_heading text=”मोहिनी के पौधे को देखभाल कैसे करे? – mohini organics plant” font_container=”tag:h2|text_align:left|color:%23ff0000″][vc_column_text]मोहिनी के पौधे की देखभाल करना बहुत ही आसान है, इस पौधे की कुछ ज्यादा देखभाल नही करनी पड़ती है। यदि आपने इस पौधे को अपने घर मे लगाया है या फिर लगाने का सोच रहे है तो आप इस पौधे की इस तरह से देख भाल कर सकते है।

  • मोहिनी के पौधे को ज्यादा पानी की आवश्यकता नही होती है, यदि आप इस पौधे में 2 दिन छोड़कर भी पानी देते है तो भी ये पौधा नही सूखेगा ।
  • इस पौधे को आप छांव में भी रख सकते है ये पौधा बिना ज्यादा धूप के भी पनप जाता है। इस लिए आप इस पौधे को बहुत ही आसानी से अपने घर मे किसी भी जगह पर लगा सकते है।
  • ये पौधा पनपने व बड़ा होने के ज्यादा जगह नही लेता है, इस पौधे की जड़े ज्यादा जगह तक नही जाती है इसलिए ये कम जगह में भी पनप जाता है तो आप इस पौधे को किसी गमले में लगाकर के अपने घर मे कही पर भी आसानी से रख सकते हो।
  • एक बात पूरा ध्यान रखे कि मोहिनी के पौधे को कोई पवित्र जगह पर ही लगाए व जहाँ पर लगाया हुआ उस जगह को पवित्र रखे, अपवित्र जगह इस पौधे को बिल्कुल भी पसन्द नही होती है।
ये भी पढ़े   कैसे बनाए वास्तुशास्त्र के अनुसार घर का नक्शा?

[vc_custom_heading text=”मोहिनी के पौधे से क्या फायदे होते है? – mohini plant benefits” font_container=”tag:h2|text_align:left|color:%23ff0000″][vc_column_text]यदि आप अपने घर मे मोहिनी का पौधा लगाते है तो आपको ये सब फायदे मिलते है, जो कुछ इस प्रकार से है।

[vc_custom_heading text=”अंतिम विचार ” font_container=”tag:h2|text_align:left|color:%23ff0000″][vc_column_text]हम उम्मीद करते है कि मोहिनी का पौधा क्या होता है ? वास्तु के हिसाब से मोहिनी के पौधे को कहा लगाना चाहिए ?, मोहिनी के पौधे की देखभाल कैसे करे ? और इसके फायदे क्या होते है इसकी पूरी जानकारी आपको मिल गई होगी। यदि आपके मन में मोहिनी के पौधे से संबंधित कोई भी सवाल है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं हम आपके सवाल का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे ।
तो दोस्तों अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर जरूर से जरूर शेयर करे, ताकि मोहिनी पौधे के बारे में उन्हें भी पता चले।

 
Next Post
gp
मकान वास्तु

गृह प्रवेश के लिए वास्तु टिप्स