वास्तु शास्त्र के अनुसार अपने पूर्वजों की तस्वीर घर में कहां लगानी चाहिए

हर कोई अपने घर में अपने पूर्वजों की तस्वीर लगाना चाहता है, क्योंकि वे उनकी विरासत होते है। जिस तरह भगवान की पूजा करना एक धर्म है उसी तरह पितरों की पूजा करना भी एक धर्म हैअपने पूर्वजों के प्रति सम्मान और प्यार दिखाने के लिए लोग अपने घरों में उनकी बड़ी-बड़ी तस्वीरें लगाते है। हिन्दू धर्म वाले लोग इसलिए भी अपने घर में अपने पूर्वजों की तस्वीरें लगाते है ताकि उनकी कृपा उन पर बनी रहे।
लेकिन अगर यह तस्वीरें वास्तु शास्त्र के अनुसार नहीं लगाई गई हो और गलत दिशा में लगाईं गई हो तो यह अशुभ माना जाता है और इसका विपरीत प्रभाव पड़ सकता है।वास्तु के अनुसार घर की कुछ जगह पितरों की तस्वीरों के लिए बनी हुयी है और उन्हें उसी जगह पर लगानी चाहिए।आईये जानते है घर में कहाँ पूर्वजों की तस्वीर लगानी चाहिए।

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में पूर्वजों की तस्वीर कहाँ लगानी चाहिए



  • देवताओं के साथ ना लगायें पूर्वजों की तस्वीर
भले ही हमारे पूर्वज बहुत सम्मान योग्य है लेकिन वे देवताओं का स्थान नहीं ले सकते इसलिए कभी भी देवी-देवताओं के साथ उनकी तस्वीर नहीं लगानी चाहिए.
  • सोने के कमरे में ना लगायें तस्वीर
सोने के कमरे में कभी भी अपने पूर्वजों की तस्वीर ना लगायें, क्योंकि यह वास्तु के अनुसार अपशगुन माना जाता है।

  • रसोई में ना लगायें पूर्वजों की तस्वीर
घर में कभी भी रसोई में अपन्जे पूर्वजों की तस्वीर नहीं लगानी चाहिए क्योंकि इससे उनका अपमान होता है।
  • घर के बीच में ना लगायें पूर्वजों की तस्वीर
कभी भी अपने घर के बीच में पूर्वजों की तस्वीर नहीं लगानी चाहिए क्योंकि ऐसा करने से घर में मानहानि होने की संभावना रहती है और घर में अशांति का माहौल बनता है। इससे घर के सदस्यों के मान-सम्मान को हानि पहुँचती है.
  • उतर दिशा में लगायें तस्वीर
जिस कमरे में आप अपने पूर्वजों की तस्वीर लगाना चाहते है वहां की उतर दिशा की दीवार पर तस्वीर लगानी चाहिए।ऐसा करना वास्तु के हिसाब से शुभ माना जाता है और पूर्वज प्रसन्न होते है.
  • इन दिशा में ना लगायें तस्वीर   
घर की पश्चिम या दक्षिण दिशा में कभी भी अपने पूर्वजों की तस्वीर नहीं लगानी चाहिए क्योंकि ऐसा करने से धन की हानि होती है और जीवन कष्ट भरा रहता है।
  • पूजा घर में ना लगायें पूर्वजों की तस्वीर
ध्यान रखें कभी भी अपने पूजा घर में पूर्वजों की तस्वीर नहीं लगानी चाहिए क्योंकि ऐसा करने से देवता नाराज हो जाते है और यह शास्त्रों की दृष्टि से अशुभ माना जाता है।ऐसा करने से आपकी पूजा भी बेकार हो जाती है और परिवार पर संकट आ सकता है।
  • पूजा घर के विपरीत दिशा में तस्वीर लगायें
यदि घर में पूजा का स्थान ईशान कोण में है तो पूर्वजों की तस्वीर पूर्व में लगानी चाहिए और अगर पूजा घर पूर्व दिशा में हो तो पूर्वजों की तस्वीर ईशान कोण में लगानी चाहिए।लेकिन भूलकर भी पूजा घर में पूर्वजों की तस्वीर ना लगायें।
ये भी पढ़े   कही आपने भी तो नहीं लगाया इस दिशा में **मनी प्लांट** ?
टैग्स:
Previous Post
sleeping disorder
जिंदगी

कहीं आपकी नींद उड़ने का कारण वास्तु दोष तो नहीं ?

Next Post
what is vaastu
वास्तु

क्या आप भी नहीं जानते वास्तु शास्त्र क्या है | what is vastu shastra