ईशान कोण में शौचालय होने के उपाय

वास्तु के अनुसार ईशान कोण में शौचालय के उपाय

आज के समय में लोग घर बनाते समय वास्तु का पूरा ध्यान रखते है क्योंकि घर में जितनी सुख-शांति मिलती है उतनी और किसी जगह नहीं मिलती l हर व्यक्ति घर को स्वर्ग जैसा बनाना चाहता है और इसलिए वास्तु का पूरा ध्यान रखता हैl लेकिन कई बार गलती हो जाती है, और वास्तु दोष रह जाता है, ऐसे में तोड़-फोड़ करना संभव नहीं होता है l जिस तरह घर की बाकी जगह का ध्यान रखा जाता है उसी तरह शौचालय वास्तु का ध्यान रकना भी जरुरी है l ऐसे में अगर ईशान कोण में बाथरूम हो तो क्या करें? आइये जानते हैं ईशान कोण का वास्तु दोष दूर करने के उपाय l

ईशान कोण में शौचालय के उपाय

ईशान कोण यानि की उतर-पूर्व दिशा, अनेको वास्तु दोषो में से एक वास्तु दोष है ईशान कोण में शौचालय को बनवाना l यह आपकी सबसे बड़ी गलती मान लो या भूल मान लो की आपने ईशान कोण शौचालय क्यों बनवाया l ईशान कोण में शौचालय के नुकसान क्या है वो तो आप भुगत ही रहें होंगे l ईशान कोण देवताओं की दिशा है और वहां सिर्फ पानी और पूजाघर का स्थान हैl वास्तु में ईशान कोण (उतर-पूर्व) की दिशा सबसे शुभ मानी जाती है l

ये भी पढ़े   वास्तु के अनुसार कैसे सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाएं? - positive energy at home

इस दिशा में शौचालय का बनवाना सबसे बड़ा वास्तु दोष माना जाता है l जो स्थान पूजा के लिए बनी है उस स्थान पर मल त्याग का स्थान बनवाना सबसे बड़ा वास्तु दोष माना जाता हैl ऐसे में अब अगर ईशान कोण में लैट्रिन बनवा दिया है तो इसे तुडवाना संभव नहीं है तो कुछ उपाय करके वास्तु दोष को दूर किया जा सकता हैl

ऐसे में अपने अंदर ग्लानी को रखना सही नहीं है की मेने बहुत बड़ी गलती कर दी, इंसान है गलती हो ही जाती हैl मंगल दोष होने के बाद भी कई शादियाँ हुयी है और वे सुखी से जीवन जी रहे हैl ऐसे में ईशान कोण में शौचालय है वे लोग भी अच्छे से जी रहे है लेकिन बस जरूरत है कुछ उपायों को अपनाने की l आईये जानते है ईशान कोण के उपाय l

वास्तुशास्त्र के अनुसार शौचालय, ईशान कोण में लैट्रिन के उपाय

लेटरिंग घर के दक्षिण या दक्षिण पश्चिम दिशा में होना चाहिए।   बाथरूम उत्तर या फिर उत्तर पश्चिम दिशा में होना शुभ होता है।

 सीढ़ियों के नीचे आप  स्टोर रूम बनवा सकते हैं।

शौचालय पूर्व, उत्तर , उत्तर पूर्व और केंद्र में नहीं होना चाहिए।

सेफ्टी टैंक में हमेशा उत्तर पश्चिम दिशा में होना चाहिए।

घर में शौचालय पूर्व, पश्चिम, उत्तर दिशा में बनाना वर्जित है।

 

 

Tags:
Previous Post
optimized-mdac-1200x900
जिंदगी

nabhi chakra in hindi

Next Post
vastu-tips_1542715181
वास्तु

भूखंड से संबंधित वास्तु टिप्स – vastu for plots