भूलकर भी न रखें भगवान की मूर्ति इस जगह जान लीजिए पूजा रूम का वास्तु शास्त्र इन हिंदी

Pooja room vastu

वास्तु के अनुसार हर घर मे pooja room होना चाहिए। घर मे pooja room बनाने से घर मे positive energy आती रहती है। इससे हमारे घर मे positivity, progress और peace बढ़ता है। यह room design करते वक़्त बड़ा ध्यान देना चाहिए  ताकि जब हम इस कमरे मे meditation करे तो सिर्फ positive energy ही attract करे। pooja room vastu सही ना होने की वजह से आप चाहे कितना भी meditation करे कभी भी charged feel नहीं करोगे।

Vastu for pooja room

पूजा रूम वास्तु टिप्स 

पूजा रूम वास्तु टिप्स 

घर मे pooja room, vastu for pooja room के अनुसार ही बनाना चाहिए। pooja room as per vastu बनाने के लिए कुछ नियमो का पालन करना जरूरी है :

  • pooja ghar हमेशा या तो north , east या फिर  northeast दिशा मे ही होना चाहिए। 
  • vastu for pooja room के according पूजा करते वक़्त आपका face east  या north दिशा की तरफ होना चाहिए। 
  • वास्तु के अनुसार there should be no god idols for pooja room पर अगर आप रखना चाहते है तो उसकी height ना तो 9 inche से ज्यादा और ना ही 2 inches से कम होनी चाहिए। 
  • The legs of idols to be kept in pooja room हमेशा पूजा करने वाले के chest level तक होना चाहिए चाहे वो इंसान खड़ा हो या बैठा हुआ हो। 
  • pooja room direction  के according  घर मे pooja room कभी भी bedroom मे या bathroom के पास नहीं होना चाहिए। 
  • pooja room मे  अंदर  जाने से पहले हमेशा अपने हाथ और पैर धोने चाहिए। 
  • ideal pooja room के design मे हमेशा roof के लिए pyramid जैसा structure होना चाहिए। ऐसा structure होने से घर मे ज्यादा से ज्यादा positive energy आती है। pooja rooms in flats मे भी ऐसे structure के pooja room आसानी से बनाये जा सकते है। 
  • pooja room according to vastu  घर मे ground floor पे होना चाहिए। pooja room  कभी भी  basement या ऊंचे floor पे नहीं होना चाहिए। 
ये भी पढ़े   वास्तु के अनुसार इन दिशाओं में लगाएं इस रंग का परदा

 Vastu tips for pooja room in hindi

अगर आप नया घर बना रहे है तो Pooja ghar at home के लिए कुछ वास्तु tips पढ़ने जरूरी है :

  • नए घर मे pooja room बनाते वक़्त pooja room direction हमेशा सही रखना चाहिए।
  • pooja room door सही दिशा मे खुलना चाहिए। 
  • भगवान् की तस्वीर रखने की जगह और दिशा वास्तु के अनुसार होनी चाहिए। 
  • west facing घर मे god idols to be kept in pooja room हमेशा या तो north या  east wall की तरफ ही होनी चाहिए। इसके साथ यह और ध्यान रखे की इस  दिवार के पीछे शौचालय या रसोई ना हो। 
  • pooja room colour as per vastu सफ़ेद , हल्का  पीला  और हल्का नीला होते है pooja room colours.
  • pooja room in small flats  के according पूजा का सामान रखने के लिए जो जगह आप इस्तेमाल कर रहे है वो south या west दिशा मे होनी चाहिए। 
  • नए घर मे pooja room बनाते वक़्त northeast दिशा मे हमेशा खिड़की रखनी चाहिए ताकि सूरज की रौशनी अंदर आती रहे।
  • pooja room doors हमेशा high quality wood के 2 shutter door होने चाहिए।
  • pooja room के south east या eastern दिशा मे आप एक lamp stand लगा सकते है।  
  • vastu for pooja room के अनुसार आप pooja room के south east corner मे एक अग्निकुंड भी रख सकते है।  
  • सीढ़ियों के नीचे कभी भी pooja ghar नहीं बनाना चाहिए।

 Which direction should god face in pooja room?

भगवान् की तस्वीर इस तरीके से राखी होनी चाहिए की जब आप पूजा करो तो आपका face east दिशा की तरफ होना चाहिए। west दिशा दूसरी सबसे शुभ दिशा है।

ये भी पढ़े   वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का नक्शा कैसा होना चाहिए (दक्षिणा मुखी)

How to arrange pooja room?

 वास्तु के अनुसार ऐसे करे अपना pooja room design :

  • Double door: pooja room के हमेशा दो दरजे होने चाहिए एक की जगह। पूजा करते वक़्त यह दोनों दरवाज़े बहार की तरफ खुलने चाहिए। ऐसे दरवाज़े जगह भी कम लेते है और मुसीबत भी नहीं बनते।
  • Elevated idols : भगवान की मूर्ति कभी भी जमीन पे नहीं रखनी चाहिए। pooja ghar vastu के अनुसार मूर्तियां हमेशा या तो किसी table पे  या   shelf पे या दिवार के सहारे लगनी चाहिए। 
  • No opposite idols : कभी भी भगवान की 2 मूर्तियां एक दूसरे के सामने नहीं रखनी चाहिए।  कभी भी एक दूसरे के सामने वाली दिवार पे भगवान की तस्वीर नहीं लगनी चाहिए। 
  • Lower ceiling : भगवान के ऊपर वाली ceiling कभी भी ज्यादा ऊँची नहीं होनी चाहिए। मूर्ति से थोड़ी सी ही ऊपर होनी चाहिए। false ceiling इसमें काम आ सकती है। 
  • Distance from wall : मूर्तियां रखते वक़्त कम से कम  दिवार से 1 inch की दुरी होनी चाहिए। 
  • Thresholds : thresholds के साथ बनाये गए pooja ghar मे चीटियां और कीड़े नहीं आते है।

यह भी पढ़े 

टैग्स: ,
Previous Post
वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का नक्शा
मकान

पश्चिम मुखी घर का वास्तु | West Facing House Vaastu In Hindi

Next Post

वास्तु के अनुसार मुख्य द्वार : ऐसे बनाएं घर के दरवाजे कभी नहीं होगी तिजोरी खाली