वास्तु के अनुसार आईना कहां लगाये

घर में आईना किस दिशा में होना चाहिए, आईना का मुंह किस दिशा में होना चाहिए?

दर्पण आईना शीशा जिसके बिना किसी का भी सिंगार अधूरा होता है। हम सभी आईने में खुद को देखे बगैर घर से बाहर कदम नहीं रखना चाहते। क्या आप जानते हैं कि आईने को लगाने की भी एक निश्चित दिशा होती है वास्तु के अनुसार आईने को एक निश्चित दिशा में एक निश्चित स्थान पर लगाना होता है तभी उसके सकारात्मक परिणाम मिलते हैं वास्तु में हर स्थान वस्तु व्यक्ति चाहे वह निर्जीव हो या सजीव ऊर्जा का वाहक होता है। उसे हम अगर एक निश्चित स्थान और दिशा में रखेंगे तो सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। अगर हम वास्तु का ध्यान रखे बगैर किसी भी वस्तु को कहीं भी रख देंगे तो हमें उसके नकारात्मक परिणामों को झेलने के लिए तैयार रहना होगा। आईने को भी एक निश्चित दिशा में रखना चाहिए तो आइए जानते हैं आईने को किस दिशा में किस स्थान पर रखना चाहिए।

आईने को किस दिशा में रखें

आईने को हमेशा पूर्व या उत्तर की दिशा में लगाना चाहिए। आईने को पूर्वी उत्तर दिशा में लगाने से आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा प्रवाहित होगी आपके घर में हमेशा खुशहाली एवं सकारात्मकता रहेगी। अगर हम आईने को पश्चिम या दक्षिण की दीवार पर लगाते हैं तो हमारे घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवाहित होगी घर में कलह क्लेश का वातावरण रहेगा।

कैसा हो आईना आपका

आईना कभी भी टूटा हुआ नहीं होना चाहिए अगर आपका आईना जरा सा भी टूट गया है तो सिर्फ फौरन घर से बाहर कर दें। टूटा हुआ आईना नकारात्मक ऊर्जा को अवशोषित करता है। आपका आईना हमेशा साफ व चमकता हुआ होना चाहिए। अगर आप का शीशा गंदा होगा तो वह नकारात्मक ऊर्जा का सबसे बड़ा संवाहक होगा। जिसके कारण आपके परिवार में मनमुटाव होगा। आईने को अगर हमें बेडरूम में रखना है तो कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना होता है हमें आईने को कभी भी बेड के सामने नहीं रखना चाहिए । अगर हम आईने को बेड के सामने रखेंगे तो सोते समय हमारा प्रतिबिंब शीशे में आएंगा। यह वास्तु के अनुसार बिल्कुल भी उचित नहीं है। अगर शीशे को बैड के सामने रखना ही आवश्यक है तो सोते समय आईने पर कपड़ा डाल दे। ‌

कहां आईना लगाएं और कहां बिल्कुल भी ना लगाएं

आजकल आईना सिर्फ चेहरा देखने के काम ही नहीं आता यह आपके घर की सजावट में एक महत्वपूर्ण योगदान निभाता है। आजकल हम सभी अपनी लॉबी से लेकर ड्राइंग रूम और डायनिंग रूम में भी आईना लगाना पसंद करते हैं। तरह-तरह की डिजाइनों के तरह-तरह के आकार वाले आईने हमें बहुत सुंदर लगते हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि हर जगह हम आईने को लगा सकते हैं। आईने को रसोई घर में नहीं लगाना चाहिए। आईने को बाथरूम के दरवाजे के सामने नहीं लगाना चाहिए। आईने को ड्राइंग रूम में पूर्वी या उत्तरी दीवार पर लगा सकते हैं। ड्राइंग रूम, डाइनिंग रूम में डाइनिंग टेबल के सामने आईने को लगाया जा सकता है। आईने में हमारा प्रतिबिंब दिखाई देता है तो जिस वस्तु को हमें बढ़ाना होता है वहां पर हम आईने को लगा देते हैं। मुख्य द्वार के सामने भी हम आईने को लगाते हैं जोकि घर में आने वाली नकारात्मक ऊर्जा को परावर्तित कर देता है।

कैसा हो आपके आईने का आकार

आईना हमेशा आयताकार या वर्गाकार होना चाहिए आईने के किनारे कभी भी नुकीले नहीं होनी चाहिए। नुकीली आकार वाला आईना घर में कभी ना लगाएं ।‌ कोशिश यही करनी चाहिए कि आपके आईने का आकार आयताकार या वर्गाकार हो। हम सुंदर दिखने के लिए आईने के गोलाकार या अंडाकार आकारों को वरीयता देते हैं। वास्तु के अनुसार गोलाकार या अंडाकार या छोटे-छोटे आईनो से बना हुआ एक बड़ा आईना शुभ नहीं माना जाता है। एक जगह पर छोटे-छोटे कई आईने लगाना वास्तु के अनुसार उचित नहीं माना जाता।

सकारात्मक ऊर्जा के लिए कहां लगाए आईना

सकारात्मक ऊर्जा के लिए हम आईने को अपने घर की तिजोरी के सामने लगा सकते हैं‌। तिजोरी के सामने या अलमारी के सामने लगा हुआ आईना आपके घर में धन वृद्धि करता है। आप अपने घर के लॉबी एरिया में भी एक बड़े आईने को लगा सकते हैं उसके सामने फूल, पौधे, फल या घर का मंदिर रखें यह आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा को प्रवाहित करता है। आईने को हमेशा सोमवार अथवा बृहस्पतिवार या शुक्रवार के दिन लगाएं। कोशिश यही करें कि आईना एक शुभ मुहूर्त में खरीदा जाए। उस सभय भद्रा या कोई ग्रहण न हो। दर्पण लगाते समय ध्यान रहेकि एक आईने के सामने दूसरा आईना न दिखाई दे‌। दो आईने आमने सामने न लगाएं। आईने को समय-समय पर साफ करते रहना चाहिए।

घर में वास्तु दोष के उपाय

घर में वास्तु दोष होने पर कहां लगाये आईना

अगर आपके घर के दरवाजे के सामने कोई दीवार, कोई सड़क है या कोई खंबा है तो यह एक वास्तु दोष है। इस वास्तु दोष को दूर करने के लिए आपको अपने घर के दरवाजे के सामने वाली दीवार पर एक बड़ा आईना लगाना चाहिए‌। घर में वास्तु दोष होने पर उत्तर और पश्चिम दिशा, उत्तर और पूर्व दिशा में आईना लगाने से वास्तु दोष दूर होता है। अगर आपका घर छोटा है तो आपको इसे स्पेशियस ल बड़ा दिखाने के लिए अपने घर की दीवार में एक बड़ा आईना लगाना चाहिए। इससे आपका घर स्पेशियस दिखेगा। यदि आपके घर के बाहर काफी सारी ऊंची ऊंची इमारतें हैं‌ बड़े-बड़े पेड़ या नुकीली झाड़ियां है तो आपको एक बड़ा आईना उनकी तरफ लगा लेना चाहिए। अगर आपके घर में कोई भी आईना टूट या चटक जाए तो उसे तुरंत फेंक दें। यह एक अनहोनी का संकेत होता है। यह बताता है कि कोई बड़ी समस्या जो आप पर आने वाली थी वह टल गई है। यदि आपके घर के किसी कोने में अंधेरा रहता है या आपकी मकान का कोई हिस्सा अंधकार में है या आकार में असामान्य है तो उस हिस्से में एक बड़ा आईना लगा ले। उस जगह की नकारात्मकता सकारात्मक ऊर्जा में परिवर्तित हो जाएगी। आपको ऐसा ही आईना खरीदना चाहिए जिसमें आपकी शक्ल हुबहू वैसे ही दिखे जैसे आप हैं। आईना स्पष्ट व अच्छी क्वालिटी वाला होना चाहिए। आईने को लगाते समय ध्यान रहे कि उसमें ऐसी चीजें दिखाई दे जो आपके लिए शुभ हो।

Previous Post
budh grah ke upay
ग्रह गोचर

बुध को मजबूत कैसे करे, बुध ग्रह के लक्षण और उपाय budh grah ke upay

Next Post
शुक्र ग्रह को कैसे मजबूत करें
ग्रह गोचर

शुक्र ग्रह को कैसे मजबूत करे, शुक्र ग्रह को मजबूत करने का मंत्र, शुक्र ग्रह का उपाय