vastu-tips-for-swimming-pool

स्विमिंग पूल से संबंधित वस्तु टिप्स – swimming pool for home vaastu tips

बदलते परिवेश में यह देखा गया है की घर और होटल के बनने में बहुत से बदलाव आए है। अब सब जरूरतों के साथ साथ घर में स्विमिंग पूल भी एक आवश्यकता के रूप में देखा जा रहा है। बहुत से लोग घर में स्विमिंग पल बनाते तो है पर वह स्विमिंग पूल बनाते समय वास्तु का ध्यान नहीं रखते जिस से घर में वास्तु दोष उत्पन्न हो जाते है। स्विमिंग पूल और वाटर टैंक में जल का भराव होता है इस तरह से जल से बहुत तरह की ऊर्जा जुड़ी रहती है इसलिए इन निर्माणों की दिशा वास्तु की हिसाब से बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होती है। आज हम इस लेख में स्विमिंग पूल से संबंधित वास्तु दोषों को बारे में आप को बताएंगे और आप कैसे उन से बच सकते है इस लेख में बताया जाएगा।

किस दिशा में हो स्विमिंग पूल - lucky vastu facings for home swimming pools






  • उत्तर-पूर्व दिशा में स्विमिंग पूल बनाना चाहिए। अगर कीसी वजह से घर के इस कॉर्नर में जगह ना हो तो उत्तर या पूर्व दिशा में भी स्विमिंग पूल बनाया जा सकता है। इस दिशा में जल का भराव हमेशा सकारात्मक ऊर्जा को घर में लेकर आता है। घर में धन और शांति संबंधी कीसी तरह की कोई समस्या उत्पन्न नहीं होती है। समाज में प्रतिष्ठा की वृद्धि होती है।
  • स्विमिंग पूल की दिशा पश्चिम से उत्तर की तरफ होनी चाहिए। और पानी को एक नियमित समय के बाद बदलते रहना चाहिए।
  • बहुत बार देखा जाता है की घर की छत पर स्विमिंग पूल बनाया जाता है जो की दिखने में बहुत ही अच्छे लगते है पर वास्तु के हिसाब से सही नहीं होते है। जहां तक ही सके तो जल का संबंध जमीन से ही जुड़ा होना चाहिए।
  • अगर आप ने ऐसा कोई घर खरीद लिया जहां छत पर पूल बना हो तो उसके आस पास हरे पौधों के कुछ घमले रख देने से वास्तु दोषों को दूर किया जा सकता है।
  • अगर गार्डन में स्विमिंग पूल बनाया जाता है तो इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए की कीसी तरह का बड़ा पेड़ उसके आप पास ना लगाया जाए क्यूंकी यह वास्तु शास्त्र और वैज्ञानिक रूप से गलत है इस से पेड़ की जड़े बहुत जल्दी फैलेगी जो की पूल को डेमेज कर सकती है।
  • घर के सेंटर में स्विमिंग पूल बनाने की अपेक्षा इस कॉर्नर वाली साइड में बनाना चाहिए इस के आस पास कीसी तरह के झरने नहीं लगाने चाहिए। हो सके तो मछलियों का एक जार स्विमिंग पूल के पास रख जा सकता है।
  • स्विमिंग पूल के पास काँटेदार वृक्ष लगाने से बचना चाहिए। अगर गार्डन में स्विमिंग पूल है तो उसके आस पास चार दीवारी बना कर अंदर फूलों के पौधे लगा देने चाहिए।
  • अगर स्विमिंग पूल सेंटर में बना है तो उसमें प्रवेश के लिए सीढ़िया उत्तर या पूर्व दिशा में होनी चाहिए। जल के भराव का पाइंट पश्चिम की तरफ और जल की निकासी का बिन्दु पूर्व की तरफ होना चाहिए।
  • स्विमिंग पूल में निकासी वाले पानी का प्रयोग पौधों की सिंचाई में किया जा सकता है।
  • वाटर टेक और स्विमिंग पूल की दीवार एक नहीं होनी चाहिए यह एक दूसरे से अलग अलग होने चाहिए।
  • स्विमिंग पुल का आकार आयताकार होना चाहिए अपेक्षाकृत घुमाव दिया जा सकता है।
  • नारियल के पेड़ स्विमिंग पुल के पास होना वास्तु के हिसाब से बहुत ही शुभ माना जाता है।
ये भी पढ़े   आप भी जान लीजिए सेप्टिक टैंक वास्तु वरना हो जाएगा लाखो का नुक्सान | Septic tank vastu

इस तरह से उपर्युक्त बातों का ध्यान रख के स्विमिंग पूल बनाए जाने पर कीसी तरह के वास्तु दोष के होने की संभावना नहीं रहती है। होटल में स्विमिंग पूल बनाते समय भी उपर्युक्त बातों का ध्यान रखा जा सकता है।

Previous Post

दुकान में बरकत के लिए उपाय – दुकान में ग्राहक बढाने के उपाय

Next Post
maxresdefault
पौधे मनी वास्तु

मोहिनी का पौधा – mohini plant benefits in hindi