भूलकर भी घर पर इस दिशा में न रखें पानी की टंकी जान ले water tank vastu in hindi | वास्तु के अनुसार पानी की टंकी

Water tank vastu In Hindi

वास्तु के अनुसार पानी की टंकी

ज्योतिष शास्त्र में सबसे ज्यादा महत्व वास्तु
को दिया गया है, जो चीज वास्तु के अनुसार बनी है उसमे कभी भी दिक्कत नहीं आती और
उस घर में हमेशा सकारात्मक ऊर्जा का वास रहता है। इसलिए घर बनाने से पहले नींव की
पूजा की जाती है और घर बनाते समय वास्तु का ध्यान रखा जाता है तथा घर बनने के बाद
पूजा और हवन किया जाता है ताकि घर में बुरी शक्तियाँ ना आये।

इसी तरह घर में सबसे ख़ास चीज होती पानी की टंकी
। जल जीवन की सबसे आवश्यक जरूरत है, क्योंकि कहते है ना जल है तो कल है और जल ही
जीवन है। इसी जल का संग्रह करने के लिए हम घर में छत के उपर पानी की टंकी बनवाते
है या फिर आँगन में जमीन के नीचे
water
tank
बनवाते है, ताकि जरूरत पड़ने पर पानी के संग्रह को काम में ले सके।

घर में पानी का
टैंक किस दिशा में होना चाहिए
?

घर में water
tank
किस दिशा में होना चाहिए
इस बात को
लेकर लोग हमेशा इस दुविधा में रहते है की पानी की टंकी कहाँ बनाये। अगर गलत दिशा
में बना दिया तो बाद में दिक्कत हो सकती है और इसे बदलना बहुत मुश्किल रहता है।
आपकी इस समस्या का समाधान आज की इस पोस्ट में हम करेंगे। आज हम आपको बताएँगे की घर
में पानी का टैंक किस दिशा में होना चाहिए और इसके क्या फायदे है?

Water
tank
घर में कहाँ बनाये?

घर में water
tank
हमेशा पश्चिम या दक्षिण-पश्चिम दिशा में बनाना चाहिए। याद रखें कभी
भी पानी की टंकी दक्षिण-पूर्व दिशा में नहीं बनानी चाहिए अन्यथा इससे आपको धन का
नुकसान उठाना पड़ सकता है और कोई दुर्घटना हो सकती है। पानी की टंकी का निर्माण
हमेशा पश्चिम दिशा में ही शुभ माना जाता है क्योंकि यह दिशा वरुण देव की दिशा है
और जो की जल का देवता है।

Water Tanks For Home

इसलिए पश्चिम दिशा में पानी की टंकी बनाने से
आप पर वरुण देव की कृपा बनी रहती है। पानी की टंकी को ऐसी जगह बनाये जहाँ
उस पर सूर्य की
किरण प्रवेश करें। हमेशा याद रखें की पानी की टंकी को उत्तर-पश्चिम दिशा में नहीं
बनाना चाहिए। अगर इस दिशा में पानी की टंकी बना रहे है तो टंकी का आकार छोटा रखे
तथा इसकी दुरी उत्तर-पश्चिम दिशा के कार्नर से कम से कम दो फीट होनी चाहिए। 
Water
tank
पर कभी भी प्लास्टिक का ढक्कन ना लगायें। अगर आप प्लास्टिक का ढक्कन
लगा रहे है तो वह नीले और काले रंग के होने चाहिए क्योंकि यह सूर्य की उष्मा के
अच्छे अवशोषक माने जाते है। अगर घर में पानी का टैंक सही दिशा में रहेगा तो घर के
लोगों का स्वास्थ्य सही रहेगा और घर में सुख-शान्ति रहेगी तथा घर में सकारात्मक
ऊर्जा प्रवेश करेगी, किसी भी तरह का मानसिक तनाव भी नहीं होगा।

Water tank as per vastu

नहाने की जगह भी पूर्व दिशा में शुभ मानी जाती
है। एक बात याद रखें घर में किसी भी जगह से पानी का रिसाव नहीं होना चाहिए अन्यथा
घर में भुखमरी की स्थिति पैदा हो सकती है। अगर आप
water
tank
उपर भी रख रहे है तो ध्यान रखे की नीचे किसी व्यक्ति का बेड तो नहीं
आ रहा है और अगर आ रहा है तो दोनों में से एक चीज खिसका दे।

नोट :- अगर water tank गलत दिशा में बन गया है तो उस पर सफ़ेद रंग
करवा दीजिये जिससे कुछ दोष दूर हो जायेंगे क्योंकि
water tank को शिफ्ट करना मुश्किल है और underground water tank को तो बिलकुल
बदल नहीं सकते।

इस पोस्ट में आप अच्छे से समझ गए होंगे की water tank कहाँ और क्यों लगाना चाहिए। उम्मीद करता हु की
यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों
के साथ शेयर करें और कमेंट बॉक्स में अपने विचार दे।

ये भी पढ़े   घर में तिजोरी कहाँ रखें और उसका मुहं किस तरफ खुला होना चाहिए
Previous Post
sleeping disorder
जिंदगी

कहीं आपकी नींद उड़ने का कारण वास्तु दोष तो नहीं ?

Next Post
what is vaastu
वास्तु

क्या आप भी नहीं जानते वास्तु शास्त्र क्या है | what is vastu shastra