वास्तु के अनुसार बेडरूम का रंग

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की दीवारो का रंग , घर का रंग कैसा हो (wall colours according to vastu shastra )

Color of wall according to Vastu

अगर मैं कहू कि घर की दीवारों का रंग उस घर में रहने वाले लोगो पर असर डालता है तो क्या आप विश्वास करेंगे? शायद नही पर जब आप इस आर्टिकल को पूरा पढेंगे आपको पता चलेगा कि घर का रंग वास्तु के हिसाब से न हो तो उसका गलत असर पड़ता है। चलिए बिना समय गवाए शुरू करते है।

Wall Color According To Vastu

वास्तु के अनुसार घर का रंग कैसा हो –

मनोवैज्ञानिको का भी मनाना है कि रंगों का असर लोगो पर पड़ता है। ऐसा कहा जाता है कि हर रंग का एक होता है जो कई बार उस घर में रहने वाले लोगो के इमोशन से मेल नही खाता है। इसलिए आपकी मदद के लिए घर पर लगने वाले रंगों से सम्बंधित वास्तु के कुछ टिप्स शेयर कर रहे है-

दिशा के आधार पर घर की दीवारों के रंग

  • उत्तर पूर्व दिशा में – हल्का नीला
  • पूर्व दिशा में – हल्का नीला या सफेद रंग
  • दक्षिण पूर्व दिशा – ऐसा माना है कि दक्षिण पूर्व दिशा अग्नि से सम्बंधित होती है इसलिए इस दिशा के लिए सिल्वर, गुलावी, ऑरेंज रंग सही होता है, क्योकि इन रंगों से घर में ऊर्जा बदती है।
  • उत्तर दिशा में – पिस्ता हरा और हरा रंग
  • उत्तर पश्चिम-दिशा में- ऐसा माना जाता है ये दिशा हवा से सम्बंधित होती है। इसी कारण ये दिशा के लिए हल्का स्लेटी, सफेद और क्रीम रंग उपयुक्त होता है।
  • पश्चिम दिशा में – ऐसा माना जाता है कि ये जगह जल से सम्बंधित होती है इसलिए इस दिशा के लिए सफेद और नीला रंग सबसे सही होता है।
  • दक्षिण-पश्चिम दिशा में – इस दिशा के लिए मिट्टी के जैसे रंग या हल्का ब्राउन रंग उपयुक होता है।
  • दक्षिण दिशा के लिए पीला और लाल रंग उपयुक्त होता है।
  • वास्तु शास्त्र के अनुसार अपने घर पर कुछ ख़ास रंग जैसे काला, गुलाबी और लाला रंग लगाने से पहले ये पता कर लेना चाहिए कि क्या ये रंग आपके लिए उपयुक्त है, क्योकि ये रंग हर किसी के लिए सही नही होते।

Color Of Bedroom According to Vastu

wall colours for bedroom according to vastu
bedroom color according to vastu

Kitchen Wall Colors According To Vastu

  • वास्तु के अनुसार रसोई का रंग के लिए लाल या ऑरेंज , और दिशा होनी चाहिए दक्षिण-पूर्व ।
  • घर के लिविंग रूम या गेस्ट रूम के लिए दिशा उत्तर-पश्चिम होनी चाहिये और रंग सफेद होना चाहिए।
  • बच्चो का कमरे के लिए दिशा होनी चाहिए उत्तर पश्चिम और रंग सफेद।
  • वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय के लिए दिशा होनी चाहिये उत्तर-पश्चिम और रंग सफेद होना चाहिए।
  • घर के हॉल के लिए दिशा उत्तर पूर्व या उत्तर पश्चिम होनी चाहिए और रंग सफेद या पीला होना चाहिए।
  • घर का बाहरी रंग उस घर के मालिक के हिसाब से होना चाहिये।

ये भी पढ़े : घर में बरसेगी पर लक्ष्मी , कर लेंगे ये अचूक उपाय

चलिए जानते हैं कौन सा रंग किस तरह के इंसान से मेल खाता है :






  • हल्का भूरा रंग पृथ्वी से सम्बंधित है यानि ये रंग शांति और पोषण का प्रतिक है। ऐसा माना जाता है कि हरा रंग सुख समृद्धि का प्रतिक होता है । ऐसा भी माना जाता है कि ये रंग दीवारों को जीवंत कर देते है।ये रंग आँखों को भी आराम देता है। बैंगनी को शिष्टता का प्रतीक माना जाता है। इसलिए घर पर बैंगनी या इससे मिलता जुलता रंग लगाना अच्छा माना जाता है। इस रंग से बने पेंटिंग से आपकी शान और शौकत का भाव प्रकट होता है। इसलिए जिन लोगो को शाही अंदाज में रहना पसंद है तो उनको ये रंग जरुर लगवाना चाहिए क्योकि ये रंग उनको काफी सूट करेगा।
  • नीला रंग ठंडा और सुकून देने वाला माना जाता है। कमरे में ये रंग होने से मूड हल्का रहा है और इंसान का मन प्रसन्न रहता है। आजकल के मॉडर्न घरो के लिए ये रंग उपयुक्त है।
  • लाल रंग प्यार का प्रतिक है। इस रंग में जुनून, अग्नि और गर्मी की ऊर्जा होती है। ये रंग शक्ति देता है इसलिए घर में थोडा लाला रंग होना ही चाहिए।
  • नारंगी रंग महत्वाकांक्षाओ का और सेहत का प्रतिक है। युवाओ को अपने कमरे में ये रंग लगाना चाहिए इससे उनमें आगे बढ़ने का जोश बना रहेगा, पर अगर आपका स्वभाव गुस्सेल है तो आप ये रंग न लगाये। ऊपर दिए सभी टिप्स पर अमल करके देखिये आप अपने जीवन में खुद परिवर्तन महसूस करेंगे।

ये भी पढ़े :

ये भी पढ़े   फेंग सुई के अनुसार feng shui items कहाँ रखनी चाहिए - Feng Shui Tips
टैग्स: , , , ,
Previous Post
वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का नक्शा
मकान

कैसी हो वास्तु के अनुसार रसोई – kitchen vastu tips in hindi

Next Post

क्या आपके घर में भी तो नहीं है ये वास्तु दोष के लक्ष्ण ?