कैसा हो पूर्व मुखी घर का वास्तु प्लान किस दिशा में रखने से आएगी लक्ष्मी

पूर्व मुखी घर का वास्तु  East Facing House Vastu Plan

बहुत सारे लोग अपने लिए उत्तर दिशा वाले घर पर पसंद करते है।पूर्व मुखी घर लोगो की पसंद  में दूसरे नंबर में आता है।  कई लोगो का मानना कि जितने भी पूर्व दिशा वाले घर होते है वो सब समान होते है, परन्तु ऐसा नही  है। वास्तु शास्त्र की माने तो पूर्व दिशा वाले घर शुभ और अशुभ दोनों हो सकते है। इसका अर्थ ये है कि कोई भी घर सिर्फ दिशा की वजह से अच्छा या बुरा नही होता बल्कि उसके अंदर की चीजे जैसे कमरे, दरवाजे और अन्य जगह सब का वास्तु बेहद महत्वपूर्ण होता है, खासकर घर का मुख्य दरवाजा। ये कहना गलत है कि घर का शुभ और अशुभ होना उसकी सिर्फ दिशा पर निर्भर करता है। कुछ उत्तर दिशा वाले अशुभ हो सकते है और  दक्षिण दिशा वाले अच्छे।

पूर्व मुखी घर का वास्तु | पूर्व दिशा वाले घर

  • पूर्व दिशा वाले घर में भी वास्तु का ख़ास ध्यान रखना चाहिए।उत्तर पूर्व दिशा में बाथरूम नही होना चाहिए।
  • उत्तर पूर्व दिशा  में बेडरूम नही होना चाहिए।
  • उत्तर पूर्व कोने में गटर भी नही होना चाहिये।
  • घर में उत्तर और पूर्व दिशा वाली दीवार दक्षिण और पश्चिम दिशा वाली दीवार से पतली और छोटी होने चाहिए।
  • उत्तर पूर्व दिशा में सीढियाँ नही होनी चाहिए।
  • उत्तर पूर्व कोने में किचन भी नही होना चाहिए।
  • उत्तर और पूर्व दोनों दिशा में कोई बड़ा पेड़ भी नही होना चाहिए।
  • घर के उत्तर और उत्तर पूर्व दिशा में डस्टबिन नही रखना चाहिए।
  • घर में उत्तर और पूर्व दिशा वाली दीवार दक्षिण और पश्चिम दिशा वाली दीवार से पतली और छोटी
    होने चाहिए।
  • आपका किचन उत्तर पूर्व या दक्षिण पूर्व दिशा में होना चाहिए।
  • अगर आपका किचन दक्षिण पूर्व दिशा में है तो खाना बनाने के वक्त आपका चेहरा पूर्व की तरफ होना चाहिए और अगर आपका किचन उत्तर पश्चिम हो तो आपका मुंह पश्चिम की तरफ  होना चाहिए।     
  • उत्तर पूर्व की तरह पूजा का कमरा नही होना चाहिए।
  • उत्तर पूर्व दिशा में आपका ड्राइंग रूम होना चाहिए।
  • उत्तर पश्चिम दिशा में आपका मेहमानों का कमरा होना चाहिए।
  • उत्तर पश्चिम दिशा बेडरूम के लिए बेस्ट होती है।
  • जब भी घर बनवाएँ पूर्व और उत्तर की और थोड़ी जगह खाली छोड़े
  • घर के उत्तर पूर्व दिशा में अंडरग्राउंड वाटर टैंक बनाए ताकि आपके घर में कभी भी पानी की कमी न हो।
  • दक्षिण और पश्चिम तरफ की दीवारे ऊँची रखे।
  • आपके घर से जुडी वो जमीन न ख़रीदे जो आपके घर से दक्षिण या पश्चिम दिशा से जुड़ा है। आपको उत्तर दिशा से जुडी जमीन खरीदनी चाहिए,ऐसी जमीने आपके लिए शुभ होंगी।
  • उत्तर पूर्व दिशा में वास्तु कलश रखे, इससे घर में सुख शांति बनी रहेगी।
  • घर की उत्तर पूर्व दिशा में स्टडी क्रिस्टल रखे, ये आपके बच्चो की शिक्षा के लिए अच्छा रहेगा।
  • घर को पवित्र करने के लिए हफ्ते में एक बार माउंटेन साल्ट से जरुर साफ़ करे।
  • अगर सेप्टिक टैंक पूर्व दिशा में है तो इस वास्तु दोष को हटाने के लिए टैंक के चारो तरफ कुछ वास्तु पिरामिड स्ट्रिप्स लगा दे।
  • अगर आपका घर का पश्चिम दिशा में ढलाव है तो इस दोष को दूर करने के लिए पूर्व दिशा वाली दीवार पर ताम्बे का सूर्य यंत्र लगायें।
ये भी पढ़े   बाथरूम और टॉयलेट बनाते समय ध्यान रखें यह बातें

पूर्व मुखी घर का वास्तु

अगर आपके घर में कोई वास्तु दोष है उसे इस तरह ठीक करे-
ये पोस्ट बुकमार्क करे और अगर आप घर खरीदने जा रही हो और वो पूर्व दिशा में हो तो इस आर्टिकल में लिखी बातो का ध्यान रखे।

यह भी पढ़े

 

 

टैग्स: , , , ,
Previous Post
sleeping disorder
जिंदगी

कहीं आपकी नींद उड़ने का कारण वास्तु दोष तो नहीं ?

Next Post
what is vaastu
वास्तु

क्या आप भी नहीं जानते वास्तु शास्त्र क्या है | what is vastu shastra