Numerology Number 7

Numerology 2021 : मूलांक 7, इस साल धन आगमन,अंकज्योतिष मूलांक 7 का जीवन

विभिन्न मूलांक की जानकारी की सीरीज में आज हम मूलांक 7 के बारे में बात करेंगे। अंकज्योतिष,ज्योतिष का एक बहुत महत्वपूर्ण भाग है। इसके द्वारा की गई कैलकुलेशन बहुत सटीक होती है। मूलांक 7 का स्वामी ग्रह केतु होता हैं। केतु ग्रह की सभी विशेषताओं का प्रभाव ऐसे व्यक्ति पर होता है।

मूलांक 7 में आने वाले व्यक्ति

वे सभी लोग जो किसी भी महीने की 7, 16, और 25 तारीख को जन्मे है, मूलांक 7 के अंतर्गत आते हैं। यदि आप या आपके परिवार का कोई सदस्य इनमें से किसी भी तारीख को जन्मा है, तो ये आर्टिकल आपके लिए बहुत ही फायदेमंद हैं।

मूलांक 7 को लेकर मतभेद

मूलांक 7 को लेकर जानकारों के बीच मे काफी मतभेद भी है। कुछ लोगो का मानना है कि ये वरुण से सम्बंधित मूलांक है तो कुछ इसे चन्द्रमा से प्रभावित मानते है। लेकिन मेजोरिटी के अनुसार ये केतु से सम्बंधित ग्रह ही है। तो आगे हम इसी आधार पर विश्लेषण करेंगे।

मूलांक 7 की विशेषता

  1. तार्किक तौर पर ये बहुत ही मजबूत होते है। तर्क में इनसे जितना थोड़ा मुश्किल होता है। फिलॉसफर टाइप लोग होते है। ये बहुत अच्छे विचारक होते है। ये धार्मिक होते है लेकिन रूढ़िवादी सोच इन्हें पसंद नही होती।
  2. धार्मिक गतिविधियों में सम्मिलित होते हैं पर आडम्बर पसंद नही होता। बहुत ही खुले विचारों के होते है, पर सीमारेखा जानते है। ये थोड़े विचलित रहते है, इसलिए किसी एक विचार पर टिक नही पाते।
  3. अपनी बात को स्पष्ट तरीके से रखने में माहिर होते हैं। बात रखने में किसी से घबराते नही, दृढ़ होते है, आत्मविश्वासी होते है
  4. कभी कभी बात का बतंगड़ भी बना डालते है।
  5. समाज में हो रही घटनाओं, विचारों, बदलावों पर पैनी नजर रखते है। इन चीज़ों पर अपनी राय जरूर रखते हैं। लोगो को समझने में माहिर होते है। दुसरो के दिल की बात जल्दी समझते है।
  6. लोग इनके प्रति जल्द आकर्षित हो जाते है। समस्याओं से भागने में नही उनका समाधान ढूंढने में विश्वास करते है।इसलिए अपनी ज्यादातर प्लानिंग में सफल होते है।
  7. केवल एक समस्या होती है कि, नकारात्मक विचार मन के एक कोने में घर कर बैठते है, और कभी कभी हावी भी हो जाते है।याददाश्त तेज होती है।
ये भी पढ़े   कहाँ अटक जाती है मूलांक 1 वालों की तरक्की

मूलांक 7 के पारिवारिक सम्बन्ध

वैवाहिक जीवन अच्छा रहता है। लेकिन हर बात पर सही गलत का विश्लेषण करने के कारण प्रेम सम्बन्ध नही टिकते। धर्म की तरह इन्हें प्रेम में भी दिखावा पसंद नही होता।
भाई, बहन, माता पिता सबके साथ सम्बन्ध अच्छे ही होते है। कई बार विचारों में भिन्नता होती है लेकिन आप हमेशा सबका अच्छा ही सोचते है। नाते रिश्तेदारों के साथ सम्बन्ध न्यूट्रल होते है।

मूलांक 7 वालों की आर्थिक स्थिति

ये लोग अपनी मेहनत से पैसे कमाते है। दान पुण्य करने में विश्वास रखते है। मोक्ष की कामना के लिए भी धन खर्च करना जानते है। कमाई के अनुसार ही खर्च करते है। लेकिन फिजूलखर्ची से बचते है।

मूलांक 7 वालो का स्वास्थ्य

ये लोग शारिरिक रूप से स्वस्थ्य दिखते है।किंतु मानसिक रूप से स्वास्थ्य समस्याओं से जूझते हैं।पेट की बिमारी से हमेशा परेशान रहते है।  मस्तिष्क  सम्बन्धी बिमारी जैसे डिप्रेशन,एंग्जायटी, या पैनिक अटैक से ग्रस्त हो सकते है।इसके अतिरिक्त  रक्तचाप कम या ज्यादा होना, त्वचा रोग, नज़र कमजोर होना आदि रोगों के चपेट में आ सकते है।

मूलांक 7 वालों की शिक्षा

आपको पढ़ना अच्छा लगता है, सदैव शिक्षा से जुड़ा कुछ न कुछ करते रहते है। विदेशी भाषा का ज्ञान भी ले सकते है।आपकी रूचि कला एवं गुप्त विद्या में भी होती है। आप गुप्त तथा धार्मिक ग्रंथों को पढना पसन्द करते है। स्वतंत्र विचारों व कलात्मक होने के कारण आप एक कवि या लेखक भी हो सकते है।

मूलांक 7 वालो का कार्यक्षेत्र

लेखक, दार्शनिक आध्यात्मिक गुरु तथा कवि के रूप में अधिक सफल होते हैं। .इसके अलावा आप सरकारी अधिकारी, ज्योतिषी, डॉक्टर ( Doctor), अध्यापक, नयायधीश  सलाहकार तथा गाइड आदि के रूप में भी ये कार्य करने वाले भी हो सकते है। रीसर्च कार्यो में भी आपकी रुचि होती है।

ये भी पढ़े   कैसी होती है मूलांक 5 वालो की किस्मत, क्यों पीछे रह जाते है ये लोग ?

मूलांक 7 के अवगुण

  1. कभी कभी दुसरो की सलाह नही मानते।
  2. बहुत जल्द गुस्सा आता हैं।
  3. दुसरो को इमोशनल बनाकर काम निकालते हैं।
  4. आप बात बात में झगड़ा करने पर उतारू हो जाते है।
  5. एक अच्छे डिसीजन मेकर नही है।

मूलांक 7 वालों के लिए उपाय

  1. हनुमान जी व केतु ग्रह की उपासना करे
  2. शराब व धूम्रपान न करें
  3. प्रतिदिन नियमित हनुमान चालीसा का पाठ करने से आर्थिक समृद्धि, मान सम्मान तथा यश की प्राप्ति होगी।

शुभ दिशा : ईशान कोण
शुभ धातु : सोना
शुभ मूलांक : 1,2 3 5 7 और 9
शुभ तारीख : 7, 16 व 25
शुभ दिन : रविवार, सोमवार और गुरुवार
शुभ रंग : हल्का पीला व काफ़ूरी रंग

Previous Post
लक्ष्मी प्राप्ति के अचूक टोटके
मनी

माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के उपाय – लक्ष्मी प्राप्ति के अचूक टोटके

Next Post
images (24)
जिंदगी

क्या है काल सर्प दोष? कैसे पाए इस से छुटकारा?