wall decor paintings vastu

वास्तु के अनुसार कौन सी पेंटिंग अच्छी है?

हर पेंटिंग का अपना अलग अलग महत्व होता है। हर पेंटिग के पीछे का मकसद संदेश देना होता है। पेंटिंग, कलाकृतियां और भी अन्य कलाएं हैं जो हमारे पास रखे जाने पर हमारे दिमाग को प्रभावित कर सकती हैं।  अक्सर, हमे जो पेंटिंग पसंद आती है वही रखते है। लेकिन हम यह भूल जाते हैं कि पेंटिंग भी हमारे व्यवहार और निर्णय लेने की शक्ति को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। वास्तु के अनुसार पेंटिंग को टांगते समय बहुत सावधानी बरतनी चाहिए, क्योंकि यह घर में कंपन और ऊर्जा को प्रभावित करती है। और इसलिए, यहाँ कुछ प्रकार की पेंटिंग हैं जिन्हें आप वास्तु के अनुसार अपने घर में रख सकते हैं।

मछली

हिंदू धर्म और वास्‍तु दोनों में ही मछली को बहुत महत्‍व दिया गया है। ऐसी मान्‍यता है कि घर में रंग-बिरंगी मछलियों को पालने से परिवार के सदस्‍यों पर आने वाली मुसीबतें टल जाती हैं। कई लोग इसलिए अपने घर पर एक्‍वेरियम भी रखते हैं, मगर एक्‍वेरियम की देखभाल में समय देना पड़ता है। यदि आप ऐसा करने में असमर्थ हैं तो आप घर पर रंगीन मछलियों की पेंटिंग लगा सकते हैं। आपको बता दें कि मछलियां धन को आकर्षित करती हैं, ऐसे में मछलियों की पेंटिंग घर की पूर्व दिशा, उत्‍तर दिशा या फिर उत्‍तर-पूर्व दिशा में लगाने से आर्थिक समस्‍याएं भी दूर होती हैं। आप मछली की पेंटिंग को मुख्‍य द्वार के लेफ्ट साइड भी लगा सकती हैं, इससे परिवार में सुख-शांति बनी रहती है।

ये भी पढ़े   शमी के पेड़ का बड़ा है ज्योतिष और औषधि महत्व

राधा-कृष्‍ण

राधा-कृष्‍ण को प्रेम का प्रतीक माना गया है। वैवाहिक लोगों को जीवनसाथी के साथ संबंधों में मधुरता बढ़ाने के लिए अपने बेडरूम में राधा-कृष्‍ण की पेंटिंग जरूर लगाना चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि अगर महिला प्रेग्‍नेंट है तो भगवान श्री कृष्‍ण के बाल स्‍वरूप का चित्र देखने से उसका मन शांत रहता है और होने वाले बच्‍चे पर भी इसका प्रभाव पड़ता है। जिस दीवार पर आप राधा-कृष्‍ण की तस्‍वीर लगा रहे हैं उसके सामने वाली दीवार पर पति-पत्‍नी को अपनी तस्‍वीर लगानी चाहिए।  राधा-कृष्‍ण की तस्‍वीर ऐसी जगह लगाएं जहां आपकी सीधी नजर उन पर पड़े।

घोड़े

दौड़ता हुआ घोड़ा उपलब्धि, विजय, शक्ति, निष्ठा और स्वतंत्रता का प्रतीक है।  आप अपने अध्ययन और बैठक कक्ष में एक दिशा में दौड़ते हुए घोड़ों की एक बड़ी तस्वीर लटका सकते है। वस्तु के अनुसार अगर आप अपने घर या दफ्तर में दौड़ते हुए घोड़े की तस्वीर लगाते हैं, तो यह आपके कार्य में गति प्रदान करता है। यह तस्‍वीर आपकी कार्यक्षमता को तो बढ़ाती ही है साथ ही आपको हर कार्य में सफलता भी प्रदान करती है। अगर आप 7 दौड़ते हुए घोड़ों की तस्‍वीर घर पर लगाती हैं तो आपको शुभ फल मिलते हैं। आपको पूर्व दिशा में इस पेंटिंग को लगाना चाहिए। आप चाहें तो दक्षिण दिशा में भी इस पेंटिंग को लगा सकती हैं।’ आपको बता दें कि धार्मिक शास्‍त्रों में 7 अंक को शुभ माना गया है

फैमिली फोटो

अगर आपके घर में अकसर सदस्‍यों के बीच लड़ाई-झगड़े हो जाते हैं या फिर आपस में सदस्‍यों की नहीं बनती है तो आपको घर में फैमिली फोटो जरूर लगानी चाहिए। कोशिश करें कि आप घर पर एक वॉल को केवल फैमिली फोटो के लिए समर्पित कर दें। इस वॉल पर परिवार के सदस्‍यों की तस्‍वीरें लगाएं। परिवार के साथ बिताए अच्‍छे पलों की तस्‍वीरें देख कर आपके मन में सदस्‍यों के प्रति प्रेम जागेगा। इससे लड़ाई-झगड़े भी कम हो जाएंगे।

ये भी पढ़े   अंकज्योतिष मूलांक 8 के लिए

जल

शांत जल -घर में शांत और शांतिपूर्ण ऊर्जा का प्रवाह बनाए रखने के लिए शांत जल और पर्वत चित्र सर्वश्रेष्ठ हैं।  एक जल निकाय के साथ एक पेंटिंग बिना अटके सुचारू रूप से बहने वाली चीजों का प्रतिनिधित्व करती है। आप इन पेंटिंग्स को स्टडी, किचन या लिविंग रूम में टांग सकते हैं।  वास्तु के अनुसार अपने घर की उत्तर या पूर्व दिशा में जलप्रपात वाली पेंटिंग लगाएं। यह आनंदमय ऊर्जा का निर्माण करते हुए धन का सुचारू प्रवाह भी सुनिश्चित करेगा। घर की पूर्वी दिशा की दीवार पर हमेशा झरने या बहती हुई नदी की तस्वीर लगानी चाहिए। ऐसा करने से घर में तनाव या आपसी मतभेद की संभावना कम होती है।

बुद्ध

हम सभी ने लगभग सभी घरों में बुद्ध की कलाकृतियां और पेंटिंग देखी हैं।  बुद्ध की प्रत्येक अंगुली प्रकृति के सभी पांच तत्वों का प्रतिनिधित्व करती है।  बुद्ध की एक पेंटिंग साहस, शांति, ज्ञान और ज्ञान का प्रतीक है। बुद्ध पेंटिंग को अपने पूजा कक्ष, भोजन कक्ष और अध्ययन में रखें।

सरस्वती

अध्ययन और कार्यस्थल में टांगने के लिए एक महत्वपूर्ण पेंटिंग देवी सरस्वती की तस्वीर है।  वह ज्ञान और कला की देवी हैं। सीखने के स्थान पर भगवान का चित्र टांगने से ऊर्जा बिना किसी विकर्षण के नियंत्रण में रहेगी।

Previous Post

क्या हम बेडरूम में 7 हॉर्स पेंटिंग लगा सकते हैं?

Next Post
शमी वृक्ष की पूजा विधि
Uncategorized

शमी के पेड़ का बड़ा है ज्योतिष और औषधि महत्व