vastu-tips-for-store-room

स्टोर रूम से जुड़े वास्तु टिप्स – store room vastu

प्राय घर में ऐसा सामान होता है जिसकी जरूर हमें हर वक्त नहीं रहती अतः ऐसे सामनों को रखने के लिए हम घर में स्टोर रूम बनाते है जब कभी भी कीसी सामान की जरूरत होती है तो हम स्टोर रूम से सामान को निकाल लेते है। स्टोर रूम में हम आनज राशन आदि का भी स्टोर करते है। जब घर बनाया जाता है तो हम कीसी भी जगह में स्टोर रूम बना लेते है जो की वास्तु की दृष्टि से नुकसानदायी हो सकता है।आज के समय में तो फ्लैट्स या घरों में लोग स्टोर रूम नहीं बनवाते या इसे उचित स्थान नहीं देते, फिर जहां चाहे वहां स्टोर एरिया बना देते हैं। इससे जीवन में असंतुलन आना शुरू हो जाता है। अतः स्टोर रूम बनाते समय वास्तु का विशेष ध्यान रखना चाहिए आज हम इस लेख में उन वास्तु टिप्स को आप तक लेकर आए है जो स्टोर रूम बनाते समय आप की सहायता करेंगे। और इस लेख में बताए अनुसार स्टोर रूम बनाने से वास्तु दोषों से मुक्ति पायी जा सकती है। तो आइए आज बात करते है उन वास्तु टिप्स की जो आप के लिए कारगर साबित होंगे।

किस दिशा में हो स्टोर रूम



  • दक्षिण पश्चिम में स्टोर रूम बनाकर आनाज जमा किया जाए तो अनाज पर जल्दी ही कीड़े लगने लगते हैं। भोजन भी ज्यादा पौष्टिक नहीं रहता। घर का मुखिया कितना ही कमाए, कम ही पड़ता है। घर के बुजुर्ग शीत रोग और गैस रोग से ग्रस्त रहते हैं। आए दिन दवा दारू का खर्च बढ़ जाता है।
  • पूर्व दिशा: पूर्व दिशा में अगर स्टोर रूम हो, तो उस घर के मुखिया को अपनी आजीविका के लिए ज्यादा यात्रा करनी पड़ती है। वह अक्षर घर के बाहर ही दिखाई पड़ता है।
  • उत्तर पश्चिम: यहां अनाज का भंडारण किया जाए तो यह दिशा बहुत ही शुभ होती है। यदि स्टोर रूम में ही पूजा का स्थान हो, तो बहुत ही शुभ होता है। वहां रहने वाला परिवार आर्थिक रूप से सम्पन्न होकर मान-सम्मान प्राप्त करता है। ऐसे घर का मुखिया यात्रा का शौकीन होता है।
  • आज के समय में जगह की कमी के कारण रसोई घर में ही भण्डारण की व्यवस्था कर ली जाती है। रसोई घर में भण्डार गृह या स्टोर रूम ईशान व आग्नेय कोण के मध्य पूर्वी दीवार के सहारे होना चाहिए।
ये भी पढ़े   कैसे सीखें वास्तु शास्त्र? vastu shastra in hindi

स्टोर रूम का फर्श






  • स्टोर रूम का फर्श हमेशा काले मार्बल क्रिस्टल पत्थरों से बनाना चाहिए जिस से नकारात्मक ऊर्जा घर में ना ठहरे। इस तरह का फर्श सिर्फ स्टोर रूम में ही लगाना चाहिए। यह नकारात्मक ऊर्जा के जमाव को रोकता है।
  • हमेशा ध्यान रखना चाहिए बेड रूम के ऊपर कीसी तरह का स्टोर रूम नहीं बनाना चाहिए। इससे घर में नकरात्मकता बनी रहती है। और घर में बच्चे पढ़ाई में कमजोर होते है।

कैसे हो स्टोर रूम







  • वास्तु के अनुसार यदि स्टोर रूम पूजा कक्ष के सामने हो या उस से लगा हुआ हो तो बहुत ही शुभ रहता है। इस से घर में निरंतर धन का प्रवाह बना रहता है। घर का मुखिया ईमानदार और मेहनती होता है।
  • कारोबार के फलीभूत होने के लिए स्टोर रूम में ही कपड़े और गहने रखने की एक व्ययवस्था होनी चाहिए। इस से धन की खूब प्राप्ति होती है और धन के लें दें से संबंधित काम भी आसानी से हो जाते है।
  • स्टोर रूम का पूर्वी भाग हमेशा खाली रखना चाहिए। और स्टोर रूम का अनियमित आकार काभी नहीं होना चाहिए या तो वर्गाकार या आयताकार होना चाहिए। भगवान की मूर्तियों को इस रूम में रखने से बचना चाहिए पूर्व दिशा में भगवान विष्णु की तस्वीर लगायी जा सकती है।
  • स्टोर रूम में हल्का पीला, सफेद या आसमानी रंग का ही प्रयोग करना चाहिए। यह घर में सूर्य की उपस्थिति को प्रदर्शित करता है। तेल, घी, गैस सिलेंडर आदि को दक्षिण पूर्व के कोने में संग्रहीत किया जाना चाहिए।
ये भी पढ़े   कछुआ रिंग किस उंगली में पहने, कछुआ अंगूठी के लाभ, कछुआ अंगूठी पहनने की विधि
Previous Post
kachua
जिंदगी

कछुआ अंगूठी की जानकारी Kachua ring benefits in hindi

Next Post
images (17)
वास्तु

कपल्स के लिए सोने के लिए बेस्ट डायरेक्शन