guru graha upay in hindi

बृहस्पति ग्रह को मज़बूत कैसे करे, बृहस्पति ग्रह को मजबूत करने का उपाय, Brihaspati grah upay

बृहस्पति ग्रह कैसे मजबूत करें

गुरू को बृहस्पति ग्रह का स्वामी गुरु माना जाता है। बृहस्पति को नवग्रहों में सर्वाधिक शुभ ग्रह माना जाता है। इसका जातक के गृहस्थ जीवन व कारोबार पर सकारात्मक असर पड़ता है। बृहस्पति ग्रह भगवान विष्णु का ग्रह माना जाता है भगवान विष्णु को कृपा जिस पर होती है उसे जीवन की हर खुशी प्राप्त होती है।

ज्योतिष में बृहस्पति ग्रह का प्रभाव

बृहस्पति देवताओं के गुरु थे। बृहस्पति ग्रह के स्वामी स्वयं बृहस्पति ही है। बृहस्पति ग्रह को नवग्रहों में सबसे शुभ माना जाता है। बृहस्पति ग्रह हमारे जीवन में सुख, संपत्ति, संतान सभी पर प्रभाव डालता है। बृहस्पति ग्रह अगर उच्च का है तो उस व्यक्ति को समाज में मान सम्मान प्रतिष्ठा मिलती है। उसका दांपत्य जीवन एवं पारिवारिक जीवन खुशहाल होता है। अगर हमारे सभी ग्रह नीच के और केवल बृहस्पति ग्रह ही है जो कि मध्य में बैठा हुआ हैऔर उच्च का है तो हमारे साथ कुछ गलत नहीं होने वाला है। सब कुछ शुभ ही होगा ऐसी महत्ता है बृहस्पति ग्रह की।

बृहस्पति ग्रह खराब होने के लक्षण

हम कुंडली के अलावा अपने शारीरिक लक्षणों को देखकर भी जान सकते हैं कि हमारा बृहस्पति ग्रह शुभ है या अशुभ। बृहस्पति हमारे लिए प्राणवायु हैं। अगर बृहस्पति ग्रह हमारी राशि में नीच का होगा तो हमें हमेशा फेफढो की समस्या रहेंगी। हमें सांस लेने में दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। अगर आपका बी पी इंरेगुलर होता है। आपकी कमर और पेट में दर्द रहता है तो इसका अर्थ है कि आपका  बृहस्पति ग्रह कमजोर होगा।

ये भी पढ़े   शुक्र ग्रह को कैसे मजबूत करे, शुक्र ग्रह को मजबूत करने का मंत्र, शुक्र ग्रह का उपाय

कमजोर बृहस्पति के लक्षण

माइग्रेन स्पांडिलाइटिस की प्रॉब्लम भी बृहस्पति ग्रह के कमजोर होने से होती है। अगर आपके माथे के दोनों तरफ दर्द रहता है तो यह भी आपके कमजोर बृहस्पति के लक्षण हैं अगर आप बहुत अधिक मोटे हैं तो यह भी आपके कमजोर बृहस्पति के लक्षण हो सकते हैं। जब बृहस्पति नीच का होता है तो जातक को बीपी, कोलेस्ट्रॉल की प्रॉब्लम आने लगेगी। उस व्यक्ति को एसिड, पेट की समस्या रहेगी। उसकी सांस से बदबू आएगी और उसको जम्हाई लेने की भी समस्याएं शुरू हो जाएंगी ।

बृहस्पति कमजोर होने के लक्षण

बृहस्पति ग्रह दया, दान, धर्म का सूचक है। अगर कोई व्यक्ति स्वभाव से कंजूस है उसे दान, धर्म में विश्वास नहीं है तो इसका अर्थ है कि उसका बृहस्पति बहुत कमजोर है। अगर आप का धन कहीं फंसा हुआ है। आप से किसी ने कर्ज लिया है और वह आपको चुका नहीं रहा है तो यह भी कमजोर बृहस्पति के लक्षण हैं। अपनी चीजों को व स्वयं को व्यवस्थित न रखना भी कमजोर बृहस्पति की निशानी होती है। आपको अपनी पैतृक संपत्ति बेचनी पड़ रही है, तो इसका अर्थ है कि आपका बृहस्पति कमजोर है। व्यवसाय में घाटा होना नौकरी का न लगना और बार-बार छूट जाना कमजोर बृहस्पति के लक्षण हैं। अच्छे गुरु का न मिलना और आपके द्वारा उन पर श्रद्धा विश्वास न रखना उनके द्वारा बताए गए गुरु मंत्र का पालन न करना कमजोर बृहस्पति की निशानी है। संतान का ना होना या फिर संतान होने के बावजूद संतान सुख ना होना कमजोर बृहस्पति की निशानी है। अगर आपका बृहस्पति नीच का है तो आपको घर और बाहर सम्मान व प्रशंसा नहीं मिल पाती।

ये भी पढ़े   बुध को मजबूत कैसे करे, बुध ग्रह के लक्षण और उपाय budh grah ke upay

कमजोर बृहस्पति को मजबूत करने के उपाय

हमने कमजोर बृहस्पति के लक्षण तो देख लिए तो आइए जानते हैं कि ज्योतिषियों ने बृहस्पति को शक्तिशाली बनाने के लिए क्या उपाय बताए हैं। बृहस्पति को मजबूत करना है तो हमें बृहस्पतिवार के दिन गरीबों को दही चावल खिलाना चाहिए। बचा हुआ खाना या बासी भोजन से परहेज करे। किसी भी पूजा स्थल पर सर झुकाकर ही आगे बड़े। अपने सोने के गहने को कभी भी खाली न रखें उन्हें हमेशा लाल रंग के कपड़े में या लाल रंग के डिब्बे में ही रखें। लाल रंग मंगल का प्रतीक है। मंगल और बृहस्पति मिलकर अत्यंत शुभ दायक परिणाम देते हैं। किसी छोटी कन्या के द्वारा पूजा स्थल पर चांदी की लुटिया में शहद भर कर रखवाये ऐसा करने सेविष्णु भगवान प्रसन्न होते हैं। गाय को केला खिलाने से भी बृहस्पति मजबूत होते हैं।

कमजोर बृहस्पति को मजबूत करने के लिए भगवान विष्णु की पूजा

बृहस्पतिवार के दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से पीले वस्त्र पहनने से और पीली चीजों का दान करने से बृहस्पति मजबूत होता है। बृहस्पतिवार के दिन नहाने के पानी में हल्दी मिलाकर नहाने से भी बृहस्पति प्रसन्न होते हैं। बृहस्पतिवार के दिन भगवान विष्णु की पूजा में चने की दाल और गुड़ का भोग लगाया जाता है। चने की दाल और गुड़ पानी में डालकर केले के वृक्ष पर चढ़ाया जाता है। घी के दीपक से भगवान विष्णु की आरती की जाती है जिससे भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं। भगवान विष्णु के विष्णु सहस्त्रनाम के जप से भी भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और बृहस्पति ग्रह मजबूत होता है। सुखी दांपत्य जीवन के लिए भगवान विष्णु के साथ-साथ मां लक्ष्मी की भी पूजा बृहस्पतिवार के दिन की जाती है।

ये भी पढ़े   सूर्य ग्रह को मजबूत करना है तो करें ये उपाय : Surya Grah Upay

बृहस्पति को मजबूत कर धन प्राप्ति कैसे करें

बृहस्पति को मजबूत करने के लिए आपको ध्यान रखना है कि बृहस्पति वार के दिन किसी को भी उधार या कर्जा ना दें ऐसा करने से आपका बृहस्पति कमजोर हो जाएगा। भगवान विष्णु की पूजा करने के बाद हल्दी, केसर या पीले चंदन का तिलक माथे पर लगाना चाहिए। बृहस्पति को मजबूत करने के लिए तोते को चने की दाल खिलाने से आपका बुध और बृहस्पति दोनों ग्रह मजबूत होते हैं। पीला पुखराज पहनने से भी बृहस्पति ग्रह मजबूत होता है और धन की प्राप्ति होती है। बृहस्पति को मजबूत करने के लिए आपको अपने से बड़ों और गुरुजनों का आदर करना चाहिए। भ्रष्टाचार की टीम बृहस्पतिवार के दिन भगवान विष्णु या भगवान शंकर के मंदिर में जाकर सवा किलोअरहर की दाल दान करने से बृहस्पति मजबूत होता है। बृहस्पति को मजबूत करने के लिए आपको सबसे पहले तो लोगों की बुराइयां करना बंद करना होगा। लोगों के बुरे स्वभाव के बारे में बातें करना बंद कर दीजिए आपका गुरु स्वयं ही मजबूत होने लगेगा। गुरुवार के दिन घर से जीरा खाकर निकले आपका बृहस्पति मजबूत होगा।

Tags: , , , ,
Previous Post
शुक्र ग्रह को कैसे मजबूत करें
ग्रह गोचर

शुक्र ग्रह को कैसे मजबूत करे, शुक्र ग्रह को मजबूत करने का मंत्र, शुक्र ग्रह का उपाय

Next Post
vastu for refrigerator
जिंदगी मकान

जानिए वास्तु केअनुसार फ्रिज की दिशा और रंगों का महत्व