दूकान की नजर उतारने के तरीके, दुकान का नजर उतारना, व्यापार वृद्धि के उपाय

दूकान की नजर उतारने के तरीके, दुकान का नजर उतारना, व्यापार वृद्धि के उपाय

[vc_custom_heading text=”ग्राहक बढाने के टोटके Dukan Ke Liye Totke  ” font_container=”tag:h2|text_align:center|color:%23dd3333″][vc_column_text]आज के समय में किसी को भी नजर लगना आम बात है। बच्चे, जवान, बूढ़े और महिलाएं सभी को नजर लगती अहि। जब भी कोई छोटा बच्चा अचानक से बीमार हो जाता है तो उसके घर वाले कहते है की इसे नजर लगी है या किसी छोटे से बच्चे की बहुत से लोग तारीफ करने लगे तो भी माँ कहती है बच्चे को नजर लग सकती है। इस नजर से अपने बच्चे को  बचाने के लिए माँ काला टीकालगाती है या काला धागा पहनाती है। [vc_column_text]इसी तरह नजर सिर्फ लोगों को नहीं लगती बल्कि व्यापार में भी नजर लगती है।

Contents hide
2 ये भी पढ़े

दुकान की नजर कैसे उतारे

अक्सर किसी का व्यापार बहुत अच्छा चल रहा होता है और अचानक से उसकी बिक्री रुक जाती है तो लोग कहते है इसके व्यापार को किसी ने बाँध दिया यानी नजर लगा दी। एक व्यापारी के लिए उसकी दुकान उसकी रोजी-रोटी होती है और अगर उसे ही कोई नजर लगा देगा तो वो बर्बाद हो जायेगा।

अगर आप भी चाहते है की आपके व्यापार, दुकान आदि को किसी की बुरी नजर ना लगे और आपके व्यापार में तरक्की हो तो आप निचे दिए गए उपाय अपनाएं। इन उपायों को अपनाने से आपके दुकान को किसी की बुरी नजर नहीं लगेगी और आपके व्यापार में  दिन-दुनी रात चौगुनी तरक्की होगी।

ये भी पढ़े   दुकान में ग्राहक बढ़ाने का उपाय, ग्राहक बढाने के उपाय, दुकान में ग्राहक बढ़ाने के टोटके

[vc_custom_heading text=”Dukan me barkat ke liye upay” font_container=”tag:h2|text_align:center|color:%23dd3333″][vc_single_image image=”153″ img_size=”full”][vc_column_text]

दुकान की नजर उतारने के टोटके 

गोमती चक्र

12 गोमती चक्र लेकर उसे लाल रंग के कपडे में बांधकर दुकान या ऑफिस के बाहर मुख्य दरवाजे पर लटका दे। इससे आपके दुकान में ग्राहकों की संख्या में इजाफा होगा और व्यापार में आने वाली समस्याएं दूर होगी।

निम्बू

रविवार के दिन 5 निम्बू काटकर दुकान में रख दे। इसके साथ एक मुट्ठी  काली मिर्च और एक मुट्ठी पिली सरसों भी रख दे। अगर दिन जब आप दुकान खोले तो इन चीजों को ले जाकर किसी सुनसान स्थान पर रख दे। इन चीजों के साथ आपके दुकान से बुरी नजर भी चली जाएगी।

नारियल

एक एकाक्षी नारियल लेकर उसे दुकान में पूजा वाले स्थान पर रखे। रोजाना धुप-दीप दिखाकर इस नारियल की पूजा करे, इससे कारोबार में उन्नति होगी और आपका मन भी व्यापार में लगा रहेगा।

निम्बू और मिर्च की माला

शनिवार के दिन निम्बू और मिर्च की माला बनायें। इसके लिए आप काले और मोटे रंग के धागे का इस्तेमाल करें। इसे दुकान के बाहर लटका दे। इससे बुरी नजर अंदर प्रवेश नहीं कर पाएगी। यह टोटका आप घर के बाहर भी कर सकते है। इसे हर शनिवार बदलते रहे।

साबुत-फिटकरी

थोड़ा सा साबुत और फिटकरी लेकर जिस दुकान पर नजर लगी है उस पर 31 बार उतारे। फिर किसी चोराहे पर जाकर उसे उतर दिशा में फेंक दे और बिना पीछे देखें लौट आये। जब आप इस दुकान के टोटके को फेंकने जाए तो अपने मुहं से कुछ ना बोले।

मंगलवार को हनुमानजी को सिंदूर चढ़ाएं

मंगलवार के दिन हनुमान जी के मंदिर जाए और उन्हें सिंदूर चढ़ाएं। हनुमानजी को संकटमोचक कहा जाता है इसलिए यह आपको और आपकी दुकान को बुरी नजर से बचायेंगे।

निम्बू और गंगाजल का कमाल

एक निम्बू ले और उसे अपनी पूरी दुकान के अंदर मुट्ठी में बंद करके घुमे। दुकान के एक-एक कोने में निम्बू को लेकर घुमे। याद रखे निम्बू मुट्ठी में बंद होना चाहिए। अब इसे बाहर जाकर चाकू से बीच में से काटकर गली के बाहर फेंक दे। अब गंगाजल को लेकर पूरी दुकान के अंदर छिड़क दे। इससे आपके दुकान की तांत्रिक बाधा भी दूर हो जायेगी और आपकी बिक्री भी बढ़ेगी।

ये भी पढ़े   बिज़नेस बढ़ाने के उपाय | vyapar me safalta ke upay in hindi

शिवलिंग का जल

शिवलिंग पर चढ़े जल को लायें और ॐ नम: शिवाय का जाप करते हुए उसे पूरी दुकान में छिडके। इससे दुकान पर लगी बुरी नजर हट जायेगी।

हम आशा करते हैं आप ये दुकान पर ग्राहक बढ़ाने के उपाय जरूर करेंगे और आपको बहुत सुख समृद्धि प्राप्त होगी अगर आपको हमारा ये पोस्ट पसंद आया तो इसको अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे ।

[vc_column_text]

ये भी पढ़े

कारोबार में नजर लग जाने पर शनिवार के दिन लोहे की 4 किलो को अभिमंत्रित कर अपने कारोबार स्थल के चारों कोनों में गाड़ दें।

सुबह शाम भगवान के नाम का दिया जलाये। और उसमें दो लौग  भगवान का नाम लेकर डाल दे। अशोक या आम के पत्तों का बंदनवार बना कर व्यवसाय स्थल पर लगाए। मिर्च और काली सरसों से सात बार नजर उतार कर आग में जला दे।

" ऊं हीं श्रीं कमले प्रसीद प्रसीद ऊं हीं श्रीं महालक्ष्मी नमो नमः",  "ऊं नमो भगवती वासुदेवाय"

"ऊं ऐं हीं नमः भगवते वित्तेश्वराय नमः"

इनमे से किसी भी मंत्र का 108 बार जाप कर लें।

बृहस्पतिवार दिन भगवान विष्णु के विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। भगवान विष्णु को तुलसी जल, पीली दाल अर्पण करना चाहिए। रोज सुबह सूर्य भगवान को रोली, चावल, गुड़ मिश्रित जल चढ़ाना चाहिए।

दुकान अच्छी चलने के लिए रोज सुबह अपने हाथों से झाडू लगाकर दुकान खोले। दुकान में एक तांबे या पीतल के लोटे में जल भरकर पांच आम के पत्तों पर जटा वाला नारियल स्थापित करें।

बृहस्पतिवार दिन भगवान विष्णु के विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। भगवान विष्णु को तुलसी जल, पीली दाल अर्पण करना चाहिए। रोज सुबह सूर्य भगवान को रोली, चावल, गुड़ मिश्रित जल चढ़ाना चाहिए।

दुर्गा कवच का पाठ रोज करे। कलश में गंगाजल रखें। अगले दिन इस जल को दुकान में छिड़काव करें। हर अष्टमी, नवमी दुर्गा सप्तशती का पाठ व हवन करें।

सब सही होने के बाद भी दुकान अगर ना चले तो, उसका अर्थ हैकिसी ने हमारी दुकान पर नजर लगा दी है। या फिर हमारे ग्रह गोचर सही नही हैं।

दुकान अच्छी चलने के लिए रोज सुबह अपने हाथों से झाडू लगाकर दुकान खोले। दुकान में एक तांबे या पीतल के लोटे में जल भरकर  पांच आम के पत्तों पर जटा वाला नारियल स्थापित करें।

बृहस्पतिवार दिन भगवान विष्णु के विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। भगवान विष्णु को तुलसी जल, पीली दाल अर्पण करना चाहिए। रोज सुबह सूर्य भगवान को रोली, चावल, गुड़ मिश्रित जल चढ़ाना चाहिए।

दुकान अच्छी चलने के लिए रोज सुबह अपने हाथों से झाडू लगाकर दुकान खोले। दुकान में एक तांबे या पीतल के लोटे में जल भरकर  पांच आम के पत्तों पर जटा वाला नारियल स्थापित करें।

" ऊं हीं श्रीं कमले प्रसीद प्रसीद ऊं हीं श्रीं महालक्ष्मी नमो नमः",  "ऊं नमो भगवती वासुदेवाय"

"ऊं ऐं हीं नमः भगवते वित्तेश्वराय नमः"

इनमे से किसी भी मंत्र का 108 बार जाप कर लें।

दुकान अच्छी चलने के लिए रोज सुबह अपने हाथों से झाडू लगाकर दुकान खोले। दुकान में एक तांबे या पीतल के लोटे में जल भरकर  पांच आम के पत्तों पर जटा वाला नारियल स्थापित करें।

" ऊं हीं श्रीं कमले प्रसीद प्रसीद ऊं हीं श्रीं महालक्ष्मी नमो नमः",  "ऊं नमो भगवती वासुदेवाय"

"ऊं ऐं हीं नमः भगवते वित्तेश्वराय नमः"

इनमे से किसी भी मंत्र का 108 बार जाप कर लें।

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,
Previous Post
शिवरात्रि कब है 2023
तीज त्योहार

इस शिवरात्रि कैसे करे भगवान भोलेनाथ को पर प्रसन्न

Next Post
घर में सुख-शांति के लिए वास्तु टिप्स
मकान वास्तु

Vastu tips in hindi for house