दुकान में ग्राहक बढ़ाने के उपाय, बंधी दुकान खोलने के उपाय – vastu tips for shop in hindi

Contents hide
16 दुकान चलाने का टोटका-कर्ज मुक्ति के उपाय

Dukan me barkat ke liye upay



दुकान में बरकत के उपाय

अगर समय आपका प्रतिकूल है और तमाम कोशिशों के बावजूद भी आपको व्यापार में सफलता नहीं मिल रही है तो यह जान लीजिए यह किसी प्रकार का वास्तुदोष हो सकता है । ऐसे में आपको वास्तु के उपाय तो करने होंगे परंतु उसे समय भी देखकर करना होगा । जो समय मैं आपको यह उपाय करने हैंऔर जिनसे आपको फायदा हो । इसलिए सबसे पहले आप प्रतिकूल समय को अनुकूल बनाने का उपचार करें। जान लीजिए कि कौन सी दशाऔर महादशा चल रही है ।
आप ज्योतिष शास्त्र में जान सकते हैं कि आपके ग्रह गोचर के अनुसार आप की दशा महादशा क्या चल रही है ।अगर आपको बार बार असफलता मिल रही है तो आप अपने ग्रह गोचर अच्छे से किसी पंडित से जांच करवाएं ।यदि जन्मकालिक ग्रहअच्छे हैं और मात्र गोचरके विपरीत गृह प्रभाव के कारण आपके दुकान या व्यवसाय अच्छा नहीं चल रहा है तो उस ग्रह से संबंधित मंत्र या पाठ को करें । इससे आपको चमत्कारिक फायदा होगा ।

Dukan me barkat ke liye upay

vastu tips for shop in hindi



दुकान के लिए वास्तु

वस्तु और ज्योतिष शास्त्र में इन समस्याओं का समाधान है। कई बार हम दुकान में तोड़फोड़ करके बहुत कुछ बदल देते हैं, परंतु उसका कोई प्रभाव नहीं दिखाई देता । दुकान में सफलता पाने के लिए आप कोई भी उपाय कर रहे हैं तो पहले उसके बारे में पूरी जानकारी ले ले । दुकान में तोड़फोड़ करने से पहले आप यह जान ले कि आपके दुकान में जो पहले से चल रहा है उसमें आप कैसे परिवर्तन ला सकते हैं ।




दुकान पर ग्राहक बढ़ाने के उपाय

दुकान चाहे छोटी हो या बड़ी उसमें तरक्की पाने के लिए लोग बहुत कुछ करते हैं नींबू मिर्ची को लटकाने से लेकर फिटकरी रखने तक और लोहाबाण सुलगाने से लेकर दुकान में तरह-तरह की तस्वीरें लगाने तक । दुकान में ग्राहक बढ़ाने के टोटके आजमाते हैं लेकिन इन सब को करने के बावजूद भी लक्ष्मी बगल वाली दुकान पर अपनी कृपा बरसाती नजर आती है आखिर आदमी करे तो करे क्या ।

ये भी पढ़े   घर और दुकान में बरकत के उपाय || धन पाने के अचूक उपाय




Dukan me grahak badhane ke upay

ग्रह शांति मंत्र

हर ग्रह के लिए उसकी शांति का एक मंत्र होता है। जिनको कर कर आप उन मंत्रों से अपने ग्रहों को शांत कर सकते हैं । जैसे कि यदि प्रतिकूल दशाया महादशा के चलते आपका व्यापार प्रभावित हो रहा है तो सबसे पहले आप अपने लग्नेश का रत्न धारण करें । साथ ही प्रत्येक ग्रह का कम से कम 23000 या 54000 जाप कराएं ।

संबंधित ग्रह का मंत्र पाठ या जाप निम्नवत हैं –

सूर्य – ॐ घृणिः सूर्याय नमः – न्यूनतम ३ माला जाप करें।
चंद्र – ॐ सं सोमाय नमः – न्यूनतम २ माला जाप करें।
मंगल – ॐ अं अंगारकाय नमः – न्यूनतम १ माला जाप करें।
बुध – ॐ बुं बुधाय नमः – न्यूनतम ५ माला जाप करें।
बृहस्पति – ॐ गां ग्रीं ग्रौं सः गुरवे नमः – न्यूनतम १० या ७ माला जाप करें।
शुक्र – ॐ शुं शुक्राय नमः – न्यूनतम ११ माला जाप करें।
शनि – ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनिश्चराय नमः – न्यूनतम १, ५ या ११ माला जाप करें।
राहु – ॐ रां राहवे नमः – न्यूनतम ४ या ११ माला जाप करें।
केतु – ॐ के केतवे नमः – न्यूनतम ६ या ११ माला जाप करें। दान से होगा कल्याण

dukan me barkat ke liye upay

नवग्रह शान्ति के लिए दान

ग्रहों की क्षमता को पाने के लिए उसके अनुसार निम्न वस्तुओं का दान भी कर सकते हैं जैसे कि




  • चंद्रमा के लिए आप मोती, चावल, चीनी, दूध, दही, चांदी इनको प्रत्येक सोमवार को दान कर सकते हैं ।परंतु ध्यान रहे की पूर्णिमा और सोमवार को सूर्यास्त के समय का दान विशेष लाभदायक होता है।
  • इसी प्रकार मंगलवार को लाल सिंदूर, गेहूं, गुड़, लाल फूल का दान करना शुभ माना जाता है । दोपहर के बाद इन वस्तुओं का दान विशेष फलदाई होता है।
  • बुधवार को प्रातकाल हरा कपड़ा, पन्ना, अनाज, मूंगा, सोना आदि दान करना बहुत ही फलदाई माना जाता है ।
  • बृहस्पतिवार के दिन पीला फल, केला, हल्दी धार्मिक किताबें दान करना बहुत ही फलदाई माना जाता है
  • शुक्रवार के दिन चावल, चांदी, सफेद वस्त्र, हीरा, ओपल, अमेरिकन डायमंड, मिश्रीएवं चीनी का दान करें ।
  • शनि के लिए उड़द, तिल, नीलम, काला कपड़ा, काला छाता, और काली गाय को अपने हिस्से की रोटी के साथ गुड़ खिलाने से शनि ग्रह की शांति होती है ।
  • राहु के लिए नीला कपड़ा, सरसों का तेल, लोहा, गेहूं आदि का दानकरना अच्छा माना जाता है । काले कुत्ते को रोटी खिलाने से भी विशेष लाभ मिलता है ।
  • केतु शांति के लिए शनिवार की शाम को झंडा, कंबल, लहसुनिया आदि का दान करना अच्छा माना जाता है ।

This is custom heading element

दुकान में ग्राहकों की भीड़ के लिए ग्राहक वशीकरण मंत्र

आज के टाइम में हर कोई चाहता है कि उसका व्यापार बढ़ता चला जाए और उसकी दुकान पर ग्राहकों की लाइन लगी रहे और तथा धन की वर्षा हमेशा होती नहीं और व्यापार में वृद्धि के लिए बहुत से उपाय भी करता रहता है परंतु उन्हें सफलता नहीं मिल पाने के कारण मैं बहुत उदास हो जाता है ऐसे में आप ग्राहक वशीकरण मंत्र का भी प्रयोग ले सकते हैं ।
इसमें से पहला है श्रीयंत्र और कुबेर यन्त्र, जिसमें कुबेर यंत्र को सबसे सर्वश्रेष्ठ माना गया है ।

ये भी पढ़े   आप भी कर ले ये ग्राहक बढाने के टोटके आने लगेगी दुकान में बरकत के उपाय

This is custom heading element

बंधी दुकान खोलने के उपाय

  • व्यापार में शत्रु के द्वारा कराई गई तांत्रिक क्रियाओं की वजह सेभी ग्राहक में कमी आ जाती हैं ।इसको ठीक करने के सुबह उठ कर 8 पान के पत्ते और 5 पीपल के पत्तेलेकर एक धागे में बांधना चाहिए और व्यापार स्थान पर पूर्व दिशा में बांधे ऐसा करने से व्यापार मेंवृद्धि होने लगेगी और सभी तांत्रिक क्रियाएं और बाधाएं समाप्त हो जाएंगी ।
  • बंधीहुई दुकान को खोलने का दूसरा उपाय है, शनिवार के दिन शमी के पेड़ की लकड़ी को पान में लपेट कर अपने गल्लेमें रख ले इससे आपकी दुकान पर कोई भी तांत्रिक प्रभाव है तो वह समाप्त हो जाएगा और व्यापार में असीम वृद्धि होगी तथा ग्राहकों भीदुकान की तरफआकर्षित होने लगेगा ।
  • अगर आपका व्यापार इंपोर्ट एक्सपोर्ट से जुड़ा है जिस कारण से आपको व्यापारियों से मिलने दूर देशों में या नगरोंमें जाना पड़ता है तो दक्षिणावर्ती शंख को लाल कपड़े में लपेटकर लक्ष्मी जी की प्रतिमा के पास अपनी दुकान में रख दें आपकेसभी कार्य सिद्ध होंगेऔर यह आपकी दुकान में व्यापारियों का आकर्षण भी बढ़ाएगा ।

This is custom heading element

दुकान चलाने का टोटका-कर्ज मुक्ति के उपाय

अगर आप दुकान चलाने के कारण आप के कर्ज की समस्या हो गई है तो इससे भी निजात पाया जा सकता है । कर्ज मुक्ति के लिए या फिर फंसा हुआ धन वापस लाने के लिए या अगर आपके पर बैंक का अधिक लोनचढ़ गया है और इसमें ब्याज की वृद्धि हो गई है । इसकी वजह से आपको कुछ संकटों का सामना करना पड़ रहा है तो, गाय के पैर की मिट्टी, श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर की मिट्टी और किसी अस्तबल की मिट्टी को लेकर तांबे के लोटे में भर दे और उसको अपनी दुकान/व्यापार स्थल पर रखें । दुकान खोलते समय साथ में उसकी पूजा करें तथा घर वापस आते समयपांच अगरबत्ती से उसकी पूजा करने से आपको अच्छा फल प्राप्त होगा और आपको कर्ज से मुक्ति मिल जाएगी ।



यदि आपका व्यापार पूरी तरह से ठप हो गया है और दुकान में ग्राहकोंकी कमी हो गई है तो आपको रविवार पान खाकर अपनी दुकान याऑफिस को खोलना चाहिए या खानहीं सकते हैंतो उनको अपने साथ ले जाए और दुकान खोलने से पहले किसी मंदिर मेंइसे अर्पित कर दे, इससे ग्राहक दुकान की तरफआकर्षित होने लगेंगे और व्यापार में वृद्धि होगी ।

सुबह शाम भगवान के नाम का दिया जलाये। और उसमें दो लौग  भगवान का नाम लेकर डाल दे। अशोक या आम के पत्तों का बंदनवार बना कर व्यवसाय स्थल पर लगाए। मिर्च और काली सरसों से सात बार नजर उतार कर आग में जला दे।

" ऊं हीं श्रीं कमले प्रसीद प्रसीद ऊं हीं श्रीं महालक्ष्मी नमो नमः",  "ऊं नमो भगवती वासुदेवाय"

"ऊं ऐं हीं नमः भगवते वित्तेश्वराय नमः"

इनमे से किसी भी मंत्र का 108 बार जाप कर लें।

बृहस्पतिवार दिन भगवान विष्णु के विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। भगवान विष्णु को तुलसी जल, पीली दाल अर्पण करना चाहिए। रोज सुबह सूर्य भगवान को रोली, चावल, गुड़ मिश्रित जल चढ़ाना चाहिए।

दुकान अच्छी चलने के लिए रोज सुबह अपने हाथों से झाडू लगाकर दुकान खोले। दुकान में एक तांबे या पीतल के लोटे में जल भरकर पांच आम के पत्तों पर जटा वाला नारियल स्थापित करें।

दुकान खोलते समय भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी का नाम लेना चाहिए।

बृहस्पतिवार दिन भगवान विष्णु के विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। भगवान विष्णु को तुलसी जल, पीली दाल अर्पण करना चाहिए। रोज सुबह सूर्य भगवान को रोली, चावल, गुड़ मिश्रित जल चढ़ाना चाहिए।

दुर्गा कवच का पाठ रोज करे। कलश में गंगाजल रखें। अगले दिन इस जल को दुकान में छिड़काव करें। हर अष्टमी, नवमी दुर्गा सप्तशती का पाठ व हवन करें।

सब सही होने के बाद भी दुकान अगर ना चले तो, उसका अर्थ हैकिसी ने हमारी दुकान पर नजर लगा दी है। या फिर हमारे ग्रह गोचर सही नही हैं।

दुकान अच्छी चलने के लिए रोज सुबह अपने हाथों से झाडू लगाकर दुकान खोले। दुकान में एक तांबे या पीतल के लोटे में जल भरकर  पांच आम के पत्तों पर जटा वाला नारियल स्थापित करें।

बृहस्पतिवार दिन भगवान विष्णु के विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। भगवान विष्णु को तुलसी जल, पीली दाल अर्पण करना चाहिए। रोज सुबह सूर्य भगवान को रोली, चावल, गुड़ मिश्रित जल चढ़ाना चाहिए।

दुकान अच्छी चलने के लिए रोज सुबह अपने हाथों से झाडू लगाकर दुकान खोले। दुकान में एक तांबे या पीतल के लोटे में जल भरकर  पांच आम के पत्तों पर जटा वाला नारियल स्थापित करें।

" ऊं हीं श्रीं कमले प्रसीद प्रसीद ऊं हीं श्रीं महालक्ष्मी नमो नमः",  "ऊं नमो भगवती वासुदेवाय"

"ऊं ऐं हीं नमः भगवते वित्तेश्वराय नमः"

इनमे से किसी भी मंत्र का 108 बार जाप कर लें।

दुकान अच्छी चलने के लिए रोज सुबह अपने हाथों से झाडू लगाकर दुकान खोले। दुकान में एक तांबे या पीतल के लोटे में जल भरकर  पांच आम के पत्तों पर जटा वाला नारियल स्थापित करें।

" ऊं हीं श्रीं कमले प्रसीद प्रसीद ऊं हीं श्रीं महालक्ष्मी नमो नमः",  "ऊं नमो भगवती वासुदेवाय"

"ऊं ऐं हीं नमः भगवते वित्तेश्वराय नमः"

इनमे से किसी भी मंत्र का 108 बार जाप कर लें।

टैग्स: , , ,
Previous Post

वास्तु शांति मुहूर्त, गृह प्रवेश मुहूर्त-21, Griha pravesh muhurat

Next Post
दिवाली पर घर को झटपट साफ करने के 10 शॉर्ट कट
जिंदगी मकान

दिवाली पर घर को झटपट साफ करने के 10 शॉर्ट कट