बाथरूम की सफाई का टोटका

धन हानि से बचे, वास्तु केअनुसार बाथरूम की सफाई कैसे करें, बाथरूम की सफाई का टोटका

घर हो, व्यापार हो या आम जिंदगी हर तरह से वास्तु हमारे जीवन से जुड़ा है। पुराने समय में तो सब लोग वास्तु को बखूबी मानते थे लेकिन आज के समय में भी लोगों ने वास्तु को मानना शुरू कर दिया है क्योंकि सब लोग जानने लगे है की वास्तु दोष होने से कितना बड़ा नुकसान हो सकता है।

लोग जानने लगे है वास्तु के अनुसार घर बनाते समय दिशाओं का कितना बड़ा महत्व है। इसलिए घर बनाते समय लोग छोटी से छोटी चीज को वास्तु के हिसाब से बनाने का प्रयास करते है। रसोई घर हो, बाथरूम हो, मुख्य दरवाजा हो, खिड़किया हो, वाटर टेंक हो सब चीजें वास्तु के हिसाब से बनाने का प्रयास किया जाता है।

ऐसे में सबसे ख़ास बात आती है बाथरूम सफाई की। इसमें अक्सर लोग गलती कर देते है। सबसे पहली गलती टॉयलेट और स्नानघर को साथ बनाना जो की वास्तु के हिसाब से गलत है और दूसरा बेडरूम में बाथरूम बनाना जो की वास्तु के हिसाब से गलत है।
ऐसे में एक सबसे ख़ास बात है बाथरूम की सफाई का ध्यान देना क्योंकि बाथरूम के खराब रहने से घर में नकारात्मक ऊर्जा आएगी और इससे घर के सदस्यों का स्वास्थ्य खराब होगा और धन की भी हानि होगी। ऐसे में वास्तु के अनुसार बाथरूम की सफाई बहुत जरुरी है। आईये जानते है बाथरूम की सफाई के टोटकों के बारे में।

बाथरूम की सफाई का टोटका

1. नल से पानी के टपकने को रोके

अगर आपके बाथरूम का नल खराब है और उसमे से पानी टपकता है तो यह गंभीर वास्तु दोष माना जाता है। इसलिए सबसे पहले तुरंत अपने नल को ठीक कराएँ।

ये भी पढ़े   कछुआ रिंग किस उंगली में पहने, कछुआ अंगूठी के लाभ, कछुआ अंगूठी पहनने की विधि

2. साफ़-सफाई का अखास ध्यान रखें

2-3 दिन में कम से कम एक बार बाथरूम की सफाई जरुर करें। अगर बाथरूम एकदम साफ़ रहेगा तो इसका असर आपकी आर्थिक स्थिति पर पड़ेगा। साफ़-सफाई वाले घरों में देवी-देवताओं की विशेष कृपा रहती है।

3. पानी के बहाव के दौरान ध्यान रखें

बाथरूम में पानी का बहाव उत्तर दिशा की और होना चाहिए। ऐसा करना वास्तु के हिसाब से शुभ माना जाता है।

4. गीजर और टाइल्स से जुडी बातें ध्यान रखें

बाथरूम में गीजर आदि इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसका संबध अग्नि से है, इसलिए इन्हें बाथरूम के आग्नेय कोण (दक्शिन-पुर्व) दिशा में लगायें। इसके साथ ही बाथरूम में गहरे रंग की टाइल्स का प्रयोग ना करें। हमेशा हल्के रंग की टाइल्स ही लगायें।

5. बाथरूम की सीलन

इस बात का विशेष ध्यान रखें की बाथरूम में सीलन नहीं होनी चाहिए। अगर सीलन है तो इसे जल्दी से जल्दी ठीक करवाएं। बाथरूम जितना ज्यादा साफ़ रहेगा उतनी ज्यादा सकारात्मक ऊर्जा घर में प्रवेश करेगी।

6. पानी की टंकी की सफाई

बाथरूम से जुडी पानी की टंकी अगर गंदी रहती है तो इससे भी नकारात्मक ऊर्जा घर में प्रवेश करती है। इस वजह से आर्थिक हानि होने की सम्भावना रहती है। इसलिए पानी की टंकी को साफ़ रखें।
उम्मीद करता हु की “बाथरूम की सफाई का टोटका” से संबधित पोस्ट आपको पसंद आई होगी और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और कमेंट बॉक्स में अपने विचार दे ताकि हम आगे भी ऐसी अच्छी पोस्ट आपके बीच ला सके।

ये भी पढ़े   वास्तु के अनुसार झाड़ू किस दिशा में रखें? क्या खड़ी झाड़ू रखे याआड़ी?
Previous Post
optimized-mdac-1200x900
जिंदगी

nabhi chakra in hindi

Next Post
vastu-tips_1542715181
वास्तु

भूखंड से संबंधित वास्तु टिप्स – vastu for plots